गृहमंत्री का बयान- Online कराई जाएगी बंदियों की कोर्ट पेशी, जल्द होंगे आदेश जारी

भोपाल।

प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) का बड़ा बयान सामने आया है। मिश्रा का कहना है कि कोरोना संकटकाल (Corona crisis) में अब जेल में बंदियों की कोर्ट पेशी भी ऑनलाइन कराई जाएगी। सरकार इस संबंध में जल्द ही निर्णय लेने जा रही है।छोटे जिलों मे भी पुलिस के लिए अत्याधुनिक मकान बनाए जाएंगे।कैदियों की पेसी भी अब वर्चुअल के माध्यम से कराने पर सरकार विचार कर रही है।

आज मीडिया से चर्चा करते हुए नरोत्तम ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में अब मैदानी पुलिसकर्मियों के लिए सर्वसुविधायुक्त आवास बनाए जाएंगे। वे अपने परिवार को कम समय दे पाते हैं। इसलिए मैंने पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन को हर भवन में लाइब्रेरी भी बनाने को कहा है।

कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा
मिश्रा ने जीतू के भावी सीएम के दौर पर जारी पोस्टर को लेकर कहा कि कांग्रेस अभी अंतर्द्वंद और संक्रमण के दौर से गुजर रही है। उपचुनाव को लेकर उसके दावों पर मेरा कहना है….न पटवारी, न व्यापारी, अबकी बार जनता की बारी।उपचुनावों में जनता फैसला करेगी किसकी बारी है। वही राहुल का बड़ा कैरियर होगा। जब चीन के राजनाइक से गुप्त वार्ता करते है तो उसको सार्वजनिक करना चाहिए।दिग्विजय दस साल सीएम रहे उन पर तरस भी नही आता वो अनुभवी हैं,जो सत्र निरस्त होता है उसकी सारी प्रक्रिया निरस्त हो जाती है।

सरकार क्षमा प्रार्थी, गलतियों में किया जाएगा सुधार
मिश्रा ने कहा कि स्वास्थ मंत्री भोपाल के हैं, पूरी व्यवस्था ठीक है बेड भी काफी संख्या मे हैं.कोरोना पेसेंट टेस्ट कराता है, रिपोर्ट आने मे देरी होती है लिहाजा अस्पताल मे उसे कैसे भर्ती किया जा सकता.है, रिपोर्ट आने तक कैसे भर्ती किया जा सकता है।जिस भी मरीज की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई और उसे भर्ती होने मे दिक्कत हुई उसके लिए सरकार क्षमा प्रार्थी है और गलतियों को सुधार किया जाएगा। सुधार की प्रक्रिया निरंतर जारी है जहां गलती हुई वहां सरकार झुकने के लिए भी तैयार है।