बहुमत परीक्षण से पहले कमलनाथ दे सकते हैं पद से इस्तीफा!

KAMAL NATH

भोपाल। सूत्रों के हवाले बड़ी खबर आ रही है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ फ्लोर टेस्ट से पहले ही मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं। थोड़ी देर पहले विधानसभा अध्यक्ष द्वारा जिस तरह से छह विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए गए हैं उससे अब यह संकेत मिलने लगे हैं कमलनाथ बिना बहुमत परीक्षण के ही पद छोड़ सकते हैं।

दरअसल इन छह विधायकों के स्पीकर द्वारा इस्तीफे मंजूर होने के बाद अब कांग्रेस के विधायकों की संख्या घटकर 108 रह गई है जो भारतीय जनता पार्टी से सिर्फ एक सदस्य ज्यादा है। हालांकि उसने चार निर्दलीय, दो बसपा और एक सपा सदस्य का समर्थन मिला है लेकिन वह भी डांवाडोल वाली स्थिति में है। इसके साथ ही अभी बेंगलुरू में मौजूद 16 विधायकों के इस्तीफे का सवाल भी मुंह बाए खड़ा है, और अगर यह इस्तीफे भी स्वीकार हो जाते हैं तो फिर कांग्रेस की सदस्य संख्या सिर्फ 92 रह जाएगी और ऐसी स्थिति में निर्दलीय सपा और बसपा के सदस्यों के समर्थन के बावजूद कांग्रेस सिर्फ 99 की संख्या तक ही पहुंच पाएगी। ताजा राजनीतिक घटनाक्रम को देखते हुए अब लगता है कि कमलनाथ ने भी शायद स्वीकार लिया है कि सत्ता हाथ से फिसल गई है।

वहीं सूत्रों के हवाले से खबर है कि मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने विधानसभा स्पीकर को रविवार 5 बजे तक सरकार को अपना बहुमत साबित करने का बोला है। लेकिन अब जैसी संभावना व्यक्त की जा रही है उसके अनुसार कमलनाथ पहले ही सीएम पद से इस्तीफा दे सकते हैं।