कमलनाथ ने बदली अपनी ट्विटर पर प्रोफाइल पिक्चर, हाईकमान के पास पहुंची थी शिकायत

Kamal-Nath-says-Congress-will-more-than-22-seats-in-Madhya-Pradesh

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

बीते दिनों पीएम मोदी ने अयोध्या में राममंदिर निर्माण भूमिपूजन किया था, इस दौरान पूरा भाजपा के साथ साथ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) भी भगवामय नजर आए थे। कमलनाथ ने ना सिर्फ अपने घर पर हनुमान चालीसा का पाठ करवाया था बल्कि अपने टि्वटर अकाउंट का कवर पेज(Twitter account cover page) भी बदल दिया था,   5 अगस्त को उन्होंने भगवा पहनकर एक धार्मिक स्थल की अपनी तस्वीर लगाई थी। इस पर केरल के सांसद टीएन प्रतापन (MP TN Pratapan) कांग्रेस की अतंरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर शिकायत की थी, जिसके बाद नाथ ने एक बार फिर अपनी प्रोफाइल चेंज कर लिया है।15 अगस्त को उन्होंने अपनी दूसरी तस्वीर ट्विटर पर प्रोफाइल लगाई है।

दरअसल, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 4 अगस्त यानि राम मंदिर निर्माण के भूमिपूजन से ठीक एक दिन पहले हनुमान चालिसा कार्यक्रम का आयोजन किया था।इस दौरान अपनी ट्वीटर की प्रोफाइल पिक्चर भी बदल ली थी, वही उन्होंने राम मंदिर निर्माण में 11 चांदी की ईंट भी देने की घोषणा की थी। इस पर जमकर सियासत भी हुई थी, बीजेपी ने कांग्रेस को जमकर घेरा था। इसके बाद केरल के कांग्रेस सांसद टीएन प्रतापन ने कांग्रेस की अतंरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र लिख कमलनाथ के राम मंदिर निर्माण को समर्थन देने पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा कि यह अस्थायी सफलता के लिए झुकना जैसा है। उन्होंने नाथ को भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अति धार्मिक राष्ट्रवाद के पीछे भागना बताया था। सोनिया गांधी को लिखे पत्र में उन्होंने कहा था कि हमारा देश धर्मनिरपेक्ष और बहुल वादी है, लेकिन हमें उस हिंदुत्व को स्वीकार नहीं करना चाहिए जो भाजपा और आरएसएस का है।

इस पर कमलनाथ ने जवाब भी दिया था और कहा था कि देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू जी और पूर्व पीएम राजीव गांधी द्वारा राम मंदिर पर लिए गए स्टैंड पर मैं आज भी कायम हूंय़ इसे किसी अन्य तरीके से नहीं देखा जाना चाहिए।1985 में राजीव जी ने राम मंदिर का ताला खुलवाया था, हम बाबरी मस्जिद गिराए जाने के खिलाफ थे। इस पर कांग्रेस का स्टैंड क्लियर था कि जो भी फैसला कोर्ट सुनाएगा, हम उसका पालन करेंगे।इसके साथ ही कमलनाथ ने कहा था छिंदवाड़ा में मैंने सबसे बड़ा हनुमान मंदिर बनवाया था। मैं एक धर्मनिष्ठ हिंदू हूं, जिसका अन्य सभी धर्मओं के प्रति गहरा सम्मान है। साथ ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को घेरते हुए कमलनाथ बोले क्या बीजेपी ने हिंदू धर्म का पेटेंट करा रखा है? क्या उन्होंने धर्म और भगवान राम के लिए एजेंसी ले रखी है?इसके बाद आज कमलनाथ ने अपना प्रोफाइल फिर से बदल लिया लिया है।

कमलनाथ ने बदली अपनी ट्विटर पर प्रोफाइल पिक्चर, हाईकमान के पास पहुंची थी शिकायत कमलनाथ ने बदली अपनी ट्विटर पर प्रोफाइल पिक्चर, हाईकमान के पास पहुंची थी शिकायत कमलनाथ ने बदली अपनी ट्विटर पर प्रोफाइल पिक्चर, हाईकमान के पास पहुंची थी शिकायत कमलनाथ ने बदली अपनी ट्विटर पर प्रोफाइल पिक्चर, हाईकमान के पास पहुंची थी शिकायत