कमलनाथ का शिवराज पर वार, ‘चंद दिनों की सरकार ने प्रदेश की तस्वीर बदल दी’

भोपाल| मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमितों के बढ़ते मामलों ने सरकार को मुश्किल में डाल दिया है| व्यवस्थाओं को लेकर सरकार विपक्ष के निशाने पर है| अब पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक बार फिर शिवराज सरकार पर बड़ा हमला बोला है| उन्होंने ट्वीट कर कहा स्वास्थ्य सेवाएँ बदहाल है, लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है, गंभीर मरीज़ों को दर-दर भटकना पड़ रहा है| पता नहीं शिवराज सरकार कब इस सच्चाई को स्वीकार करेगी।

पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर शिवराज सरकार फिर निशाने पर लिया है| शनिवार को कमलनाथ ने चार ट्वीट किये, जिसमे उन्होंने लिखा-“शिवराज जी , कोरोना महामारी को लेकर प्रदेश की स्थिति को लेकर भले बड़े-बड़े दावे करे , हवा-हवाई बाते करे लेकिन यह सब सच्चाई व वास्तविकता से परे है। आज भी स्वास्थ्य सेवाएँ बदहाल है,लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है,गंभीर मरीज़ों को दर-दर भटकना पड़ रहा है”|

लोगों को राशन -दवाई नहीं मिल रही
उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा- “मृत्यु का आँकड़ा बढ़ता जा रहा है,प्रदेश कोरोना को लेकर देश भर में चर्चित होकर नित नये रिकोर्ड बना रहा है, डॉक्टर्स,स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस कर्मी PPE किट, मास्क व अन्य संसाधनो के अभाव में प्रतिदिन आज भी संक्रमित हो रहे है, लोगों को राशन -दवाई व अन्य आवश्यक वस्तु नहीं मिल पा रही है”।

कोरोना के आंकड़ों में शुरू हुआ हेर-फेर का खेल
अन्य ट्वीट में कमलनाथ ने लिखा- “अस्पतालों से मरीज़ों को भगाया जा रहा है , लोगों की टेस्टिंग ही नहीं हो पा रही है , लोग आगे आकर ख़ुद टेस्टिंग की गुहार लगा रहे है , हेल्पलाइन नं. व्यवस्था फेल है , कोई सुनवाई नहीं हो रही है , अब तो कोरोना से सम्बंधित आँकड़ो में भी हेर-फेर का खेल चालू हो गया है”|

कब सच्चाई स्वीकार करेगी सरकार
पूर्व सीएम ने आगे लिख “इलाज व एम्बुलेंस के अभाव में मरीज़ दम तोड़ रहे है , चंद दिनो की सरकार ने प्रदेश की तस्वीर ही बदल कर रख दी है , पता नहीं शिवराज सरकार कब इस सच्चाई को स्वीकार करेगी। हवा-हवाई दावे छोड़ ज़मीनी स्तर पर ठोस कार्य योजना बनाकर कार्य करेगी”।