मध्यप्रदेश- RPF ने 147 नाबालिग बच्चों को चाइल्ड लाइन और माता-पिता के किया सुपुर्द

RPF ने ऑपरेशन जीवन रक्षा के तहत आरपीएफ स्टाफ द्वारा 19 यात्रियों / व्यक्तियों की जान बचाई गई।

Avatar
Published on -

BHOPAL NEWS : पश्चिम मध्य रेल यात्रियों की सुरक्षा के लिए कृतसंकल्पित है। महाप्रबंधक के मार्गदर्शन, प्रमुख मुख्य सुरक्षा आयुक्त एवं तीनों मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सम्पूर्ण पश्चिम मध्य रेलवे में रेल सुरक्षा बल के द्वारा अलग-अलग अभियान चलाकर यात्रियों की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

वर्ष 2024 में (मई माह तक) रेल सुरक्षा बल के द्वारा किये गए सराहनीय कार्य इस प्रकार हैं। 

RPF ने ऑपरेशन जीवन रक्षा के तहत आरपीएफ स्टाफ द्वारा 19 यात्रियों / व्यक्तियों की जान बचाई गई वही ऑपरेशन नारकोस के तहत 13 मामलों में 20 व्यक्तियों को पकड़ा गया जिनके पास से 160.085 किलोग्राम डोडा चूरा कीमत रूपये12,19,000 /- एवं 205.489 किलोग्राम गांजा कीमत रूपये 17,41,400/- बरामदगी करते हुए अग्रिम कार्यवाही हेतु संबंधित जीआरपी / सिटी पुलिस को सुपुर्द किया गया।

इसके साथ ही ऑपरेशन सतर्क के तहत कार्रवाई कर संबंधित जीआरपी को सुपुर्द किया गया

आर्म्स एक्ट के 14 मामलों में 14 व्यक्तियों को पकड़कर संबंधित जीआरपी को सुपुर्द किया गया। वही 04 मामलें में 1,19,58,000/- रुपये नगद कैश के साथ 04 व्यक्ति को पकड़कर आयकर विभाग को सूचित करने के उपरांत संबंधित जीआरपी को सुपुर्द किया गया, इसके साथ ही  01 व्यक्ति को सोने के आभूषणों कीमत 20,65,764 /- रुपये के साथ पकड़ा तथा जीआरपी को सुपुर्द किया गया और 02 मामलों में 02 व्यक्तियों को चांदी के आभूषणों कीमत 11,58,926 /- रुपये के साथ पकड़कर संबंधित जीआरपी को सुपुर्द किया गया।
20 मामलों में 449.81 लीटर शराब कीमत 7,33,903 /- रूपये की शराब के साथ पकड़े गए। उनके विरुद्ध कार्रवाई की गई।

ऑपरेशन यात्री सुरक्षा

ऑपरेशन यात्री सुरक्षा के तहत यात्रियों की सामान चोरी के 68 आरोपियों को पकड़कर 38,45,977/- रूपए की संपत्ति की बरामदगी करते हुए संबंधित जीआरपी को सुपुर्द किया गया जिससे 68 प्रकरणों को हल किया गया। अपने परिजनों से बिछड़े कुल 147 नाबालिग बच्चों (लड़का-81 एवं लड़की-66) को चाइल्ड लाइन या उनके माता-पिता को सुपुर्द किया गया। आरपीएफ द्वारा 33 व्यक्तियों (बुजुर्ग नागरिका, महिलाओं, शारीरिक रूप से अक्षम और बीमार / पागल) को यात्रा के दौरान सहायता / सुविधाएं प्रदान (यानी व्हील चेयर, स्ट्रेचर, चिकित्सा सहायता, एम्बुलेंस, दवा और शिशु भोजन आदि) की गई है।


About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj

Other Latest News