मप्र के 13 जिलों में सामान्य से अधिक बारिश, इन जिलों में हुई कम वर्षा

3633
More-than-normal-rainfall-in-13-districts-of-MP

भोपाल| मध्य प्रदेश में एक बार फिर अच्छी बारिश का दौर शुरू हो गया है| प्रदेश में इस वर्ष मानसून में एक जून से 7 अगस्त तक 13 जिलों में सामान्य से ��धिक, 28 जिलों में सामान्य एवं 10 जिलों में सामान्य से कम वर्षा हुई है। सर्वाधिक वर्षा भोपाल जिले में और सबसे कम वर्षा सीधी जिले में दर्ज हुई है।

सामान्य से अधिक वर्षा वाले जिले भोपाल, मंदसौर, नीमच, रतलाम, झाबुआ, शाजापुर, सीहोर, खण्डवा, राजगढ़, आगर-मालवा, बुरहानपुर, इंदौर और रायसेन हैं। वहीं सामान्य वर्षा वाले जिले भिण्ड, बड़वानी, अलीराजपुर, मुरैना, धार, सिंगरौली, उमरिया, नरसिंहपुर, उज्जैन, होशंगाबाद, गुना, मण्डला, शिवपुरी, डिण्डौरी, दतिया, दमोह, श्योपुरकलां, देवास, हरदा, रीवा, अशोकनगर, खरगोन, बैतूल, टीकमगढ़, ग्वालियर, जबलपुर, सतना और विदिशा हैं। अनूपपुर, सागर, सिवनी, छतरपुर, कटनी, पन्ना, बालाघाट, छिंदवाड़ा, शहडोल और सीधी जिलों में सामान्य से कम वर्षा मापी गई।


तीन सिस्टम करा रहा बारिश 

मध्य प्रदेश में बुधवार को सुबह से रात तक कई इलाकों में अच्छी बरसात हुई है, बारिश का यह सिलसिला आगे भी जारी रहने की संभावना है| राज्य में तीन सिस्टम सक्रिय है, जिसके कारण प्रदेश में झमाझम बरसात का दौर शुरू हो गया है। बंगाल की खाड़ी में बना अवदाब का क्षेत्र गहरे अवदाब के क्षेत्र में तब्दील होकर बालासोर पर सक्रिय हो गया है। इसके अतिरिक्त मानसून ट्रफ एक फिर नौगांव से होकर गुजर रहा है। इसके अतिरिक्त उत्तर-पश्चिम मप्र. पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात भी बना हुआ है।  मौसम विज्ञानियों के मुताबिक गुरुवार-शुक्रवार को बरसात के क्रम में और तेजी आएगी। वहीं अगले 24 घंटे प्रदेश के 28 जिलों में भारी और कही कहीं अति वर्षा की चेतावनी दी गई है| 


इन जिलों में अलेर्ट 

मौसम विभाग के मुताबिक अनूपपुर, डिंडोरी, उमरिया, शहडोल, कटनी, जबलपुर, मंडला, बालाघाट, छिंदवाड़ा, शिवनी, सागर, दमोह, रायसेन, विदिशा, सीहोर, होशंगाबाद, बेतुल, हरदा, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, धार, नीमच, मंदसौर, राजगढ़, गुना, श्योपुर और अशोकनगर जिले में भारी बारिश के साथ ही कुछ स्थानों पर अति भारी बारिश हो सकती है| 

यहां हुई तेज बारिश 

 मंगलवार को बुधवार को कई स्थानों पर अच्छी बारिश हुई है| वहीं रायसेन जिले के बेगमगंज स्थित एक नदी के तेज बहाव में बुधवार को एक महिला बह गयी, जिसका अब तक पता नहीं चल सका, उसकी खोजबीन जारी है। देवरी थाला दिखावन मार्ग पर रोहिया नाले में रोणा गांव के निवासी भीकम सिंह लोधी ट्रैक्टर धोते समय तेज बहाव वाले नाले में बह गया । बीना- रिफाइनरी की कैंटीन में काम करने वाले कृष्णकुमार रजक (24) की नाले में बहने से मौत हो गई। वह मंगलवार देर शाम से लापता था। बुधवार सुबह नाले में उसका शव मिला। कृष्णकुमार मालथौन थाना क्षेत्र के डबडेरा गांव का रहने वाला था।  रायसेन में बुधवार को जिले के सिलवानी तहसील के मुआंर गांव की नकटी नदी में बाढ़ आने से पुल पर 5 फीट पानी आ गया था, जिससे सड़क संपर्क टूट गया था। नदी में बढ़ते जलस्तर से गांव वाले भी चिंतित हो गए थे। लेकिन दोपहर बाद पुल से पानी नीचे आने पर इस मार्ग का आवागमन हो गया था।  वहीं  भोपाल में बुधवार को दोपहर के बाद शाम को जोरदार बारिश हुई। हालांकि रुक-रुककर बारिश का दौर जारी है। इससे भोपाल के बड़े तालाब का जलस्तर भी बढ़ा है। भोपाल के आसपास भी दिन भर बारिश होती रही|  

कहां कितना गिरा पानी 

मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक बुधवार को सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक पचमढ़ी में 93,उज्जैन में 35, शाजापुर में 37, श्योपुरकला में 26, बैतूल में 25, रतलाम में 21, नौगांव में 18, जबलपुर में 18, भोपाल में 13.9, ग्वालियर में 13.6, सीधी 13, सागर में 13, इंदौर में 12.6, दमोह में 12, उमरिया में 8 मिमी. पानी गिरा।   

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here