MP By-election : नाराज कार्यकर्ताओं को मनाने में लगी तोमर, सिंधिया और वीडी की तिकडी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।

चुनाव आयोग (Election Commission) द्वारा उप चुनाव (By election) जल्द कराए जाने के बाद सियासी दलों (Political Parties) की सक्रियता बढ़ गई है। सत्ता का फैसला करने वाले इन उप चुनावों को लेकर भाजपा (BJP) खासी सतर्क है। पार्टी को सबसे ज्यादा चिंता अपने मूल कार्यकर्ताओं की नाराजगी को लेकर है। इन कार्यकर्ताओं को मनाने के लिए ग्वालियर-चंबल अंचल (Gwalior-Chambal Anchal) में काम शुरू हो गया है। केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Agriculture Minister Narendra Singh Tomar), राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Rajyasabha MP Jyotiraditya Scindia) और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (BJP State President VD Sharma) की तिकड़ी हर विधानसभा क्षेत्र में जाकर उपेक्षित कार्यकर्ताओं को मना रही है।

सिंधिया ग्वालियर भाजपा कार्यालय (Gwalior BJP Office) में भी सक्रिय हैं तो तोमर और शर्मा विधानसभा वार बैठक लेकर हर कार्यकर्ता को काम देने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा का सबसे ज्यादा फोकस ग्वालियर-चंबल पर है। इस अंचल की 16 सीटों पर उपचुनाव होने हैं। पिछले उपचुनाव में यहां से कांग्रेस ने दमदार जीत दर्ज की थी। अब राजनीतिक समीकरण बदल गए हैं और सिंधिया समर्थक विधायक उनके साथ भाजपा में आ गए हैं। पर इनके आने के बाद भाजपा के पुराने नेताओं में उहापोह की स्थिति है। वे 4 महीने बाद भी सिंधिया समर्थक नेताओं के साथ तालमेल नहीं बिठा पा रहे हैं। भाजपा को डर है कि अगर उसके केडरस कार्यकर्ता पूरी तरह सक्रिय नहीं हुआ तो चुनाव में दिक्कत आ सकती है।

बताया जाता है कि भाजपा को अपने संगठन मंत्रियों और विधायकों से जो रिपोर्ट मिली है उसके मुताबिक कई विधानसभा क्षेत्र में भाजपा का मूल्य कार्यकर्ता अभी भी कांग्रेस से आए प्रत्याशी के पक्ष में काम करने का पूरा मन नहीं बना पा रहा है। इस रिपोर्ट के बाद केंद्रीय मंत्री तोमर और शर्मा को सक्रिय किया गया है। दो बार प्रदेश अध्यक्ष रह चुके तोमर हर क्षेत्र के कार्यकर्ताओं को सीधे जानते हैं। 3 दिन पहले वह मुरैना और शिवपुरी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर चुके हैं, तो अब शिवपुरी और गुना जिले में हैं। तोमर और शर्मा जिले के हर उस नेता से सीधे बात कर रहे हैं जो सालों से भाजपा में है और सिंधिया समर्थकों के आने के बाद खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। वहीं ज्योतिराज सिंधिया भी लगातार अंचल में सक्रिय है शुक्रवार को वह पहली बार ग्वालियर के भाजपा कार्यालय में पहुंचे और काफी देर तक कार्यकर्ताओं से बातचीत की। सिंधिया भी अब लगातार इसी अंचल में सक्रिय रहकर कार्यकर्ताओं से संवाद बढ़ाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here