Suspended: MP में ग्रंथपाल और पंचायत सचिव निलंबित, सहायक श्रम अधिकारी को नोटिस

वही होशंगाबाद कलेक्टर ने सहायक श्रम अधिकारी को नोटिस जारी कर एक दिन की सैलरी काटने के निर्देश दिए है।

कलेक्टर

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में शासकीय कामों में लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई की जा रही है। अब भोपाल (Bhopal), होशंगाबाद (Hoshangabad) और बालाघाट (Balaghat) में अधिकारियों पर गाज गिरी है। भोपाल में उच्च शिक्षा विभाग द्वारा सरकारी कॉलेज के ग्रंथपाल और बालाघाट में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने पंचायत सचिव को लापरवाही पर तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया है। वही होशंगाबाद कलेक्टर ने सहायक श्रम अधिकारी को नोटिस जारी कर एक दिन की सैलरी काटने के निर्देश दिए है।

यह भी पढ़े.. MP में टूटे सारे रिकॉर्ड, 4043 नए केस और 13 की मौत, साप्ताहिक हाट बाजार हो सकते है बंद

दरअसल, मध्य प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department)  ने सरोजिनी नायडू शासकीय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय भोपाल (Government College Bhopal) के ग्रंथपाल डॉ. प्रभात पाण्डे को निलंबित (Suspended)  कर दिया है।यह कार्रवाई ग्रंथपाल पाण्डे को प्राचार्य के निर्देशों की अवहेलना कर लायब्रेरी को नवीन भवन में स्थानांतरण न करने और पुस्तकालय समिति की बैठक में उपस्थित न होने के लिये की गई है।

वही बालाघाट में विहित प्राधिकारी एवं जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन (CEO) अधिकारी आर उमा माहेश्वरी ने शासकीय राशि का गबन करने एवं अपने कर्त्त्वयों के प्रति घोर लापरवाही बरतने के कारण जनपद पंचायत बैहर के अंतर्गत ग्राम पंचायत अलना के तत्कालीन सचिव चरणलाल भुनेश्वर को तत्काल  प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया है।ग्राम पंचायत अलना द्वारा दो CC सड़क निर्माण कार्यों में राशि आहरण किया जाकर कार्य पूर्ण नहीं कराया गया था तथा मूल्यांकन से अधिक राशि का आहरण कर लिया गया था। यह कार्रवाई मध्यप्रदेश पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम-1993 के तहत की गई है।

यह भी पढ़े.. Suspended: लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई, पंचायत सचिव तत्काल प्रभाव से निलंबित

इस प्रकरण की जांच के बाद विहित प्राधिकारी एवं जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी उमा माहेश्वरी ने ग्राम पंचायत की प्रशासकीय समिति की प्रधान कविता धुर्वे से 03 लाख 36 हजार 454 रुपये एवं तत्कालीन सचिव चरणलाल भुनेश्वर से 03 लाख 36 हजार 454 रुपये वसूल करने के आदेश दिये थे। कलेक्टर  दीपक आर्य ने ग्राम पंचायत की प्रधान कविता धुर्वे को पूर्व में ही पद से पृथक कर दिया है और उन्होंने शासकीय राशि का गबन करने के कारण अलना के तत्कालीन सचिव चरणलाल भुनेश्वर के विरूद्ध अनुशासनात्मक (Suspended) कार्यवाही के निर्देश दिये थे।

इसके अलावा होशंगाबाद कलेक्टर (Hoshangabad Collector) धनंजय सिंह ने संबल योजना में शासन (MP Government) निर्देशों के अनुरूप अपेक्षित प्रगति न लाने एवं योजना के मॉनिटरिंग कार्य में लापरवाही बरतने पर प्रभारी सहायक श्रम अधिकारी होशंगाबाद शिवनारायण सांगुले की 1 वेतन वृद्धि असंचई प्रभाव से रोकने तथा 3 दिन का अवैतनिक करने का नोटिस (Notice) जारी करने के निर्देश दिए हैं।कलेक्टर सिंह ने मंगलवार 6 अप्रैल को संबल योजना की प्रगति की विस्तृत समीक्षा की एवं आवश्यक निर्देश दिए है।