MP : हनुमान चालीसा पढ़ने पर जुर्माना मामला, अब कांग्रेस ने सरकार की कार्रवाई पर उठाए सवाल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के सीहोर में एक कालेज के हॉस्टल में छात्रों के हनुमान चालीसा पढ़ने पर लगाए गए जुर्माने के मामलें में अब कांग्रेस ने सरकार पर हमला बोला है, जुर्माने के इस मामले में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कालेज प्रबंधन को फटकार लगाई थी और जुर्माने का आदेश वापस लेने के लिए कहा था, अब इस मामले में मप्र कांग्रेस कमेटी  कहा की जिस प्रकार वेल्लोर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (VIT) सीहोर में छात्रों को हनुमान चालीसा पढ़ने पर पांच हजार रुपए का जुर्माना किया गया यह हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाला था इस पर तत्काल भाजपा के नेता राजनीति करने लगे लेकिन ना इंस्टीट्यूट को कोई नोटिस दिया गया ना किसी तरह की कार्यवाही की गई यहां तक कि कॉलेज प्रशासन द्वारा जुर्माना तक वापस नहीं लिया गया है।

यह भी पढ़ें… अब सीएम के इलाके में हनुमान चालीसा पर बवाल, गृह मंत्री ने दिए जांच के आदेश

कांग्रेस के प्रवक्ता अजय यादव के अनुसार वेल्लोर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (VIT) कॉलेज में भारी अव्यवस्था का आलम है दूषित भोजन, पानी छात्रों को दिया रहा है छात्र  लगातार बीमार पड़ रहे हैं बहुत सारे बच्चे फूड प्वाइजनिंग का शिकार होकर अस्पताल में भर्ती है भाजपा नेताओं की पुरानी आदत है समय-समय संवेदनशील मुद्दों पर जनमानस की भावनाओं से खिलवाड़ करते हैं लेकिन कोई ठोस कार्यवाही नहीं करते है- ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लगातार ऐसी फिल्में बनाई जा रही है। जो धार्मिक भावनाएं विशेष कर के हिंदू धर्म की धार्मिक भावनाओं को आहत कर रही हैं सुप्रीम कोर्ट तक ने सरकार को निर्देश दिए हैं कि ओटीटी प्लेटफार्म के लिए सेंसर बोर्ड एवं नियम बनाएं पर सरकार द्वारा कभी कोई कार्यवाही नहीं की गई ना नियम बनाए ना सेंसर बोर्ड बनाया गया सूटेबल बॉय,आश्रम, काली और भी कई वेब सीरीज ने धार्मिक भावनाओं को आहत किया, भाजपा नेताओं ने खूब राजनीति की आश्रम की शुटिंग के दौरान भोपाल में प्रकाश झा के ऊपर स्याही फेंकी गई गृह मंत्री तक ने कहा कि आश्रम नाम पर आपत्ति है लेकिन आश्रम रिलीज भी हो गई और कोई कार्यवाही नहीं की गई, अब फिल्म काली की निर्माता के लिए लुकआउट नोटिस की बात कर रहे है अब इस नोटिस का क्या हश्र होना है कोई अता पता नहीं है।

यह भी पढ़ें… सरकारी कर्मचारियों के लिए जरूरी खबर, जानें सेवानिवृत्ति आयु बढ़ाने के मामले मे हाई कोर्ट क्या कहा?

कांग्रेस ने आरोप लगाया है, कि अभिनेत्री श्वेता तिवारी ने 27 जनवरी 2022 को भोपाल में आकर भगवान के लिए अपमानजनक बात कही हमारी आस्था और विश्वास को ठेस पहुंचाई तब ऐसे ही भाजपा के नेताओं ने  शिकायत की नौटंकी करी लेकिन उस पर आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई।  ट्विटर द्वारा जून 2021 में भारत का गलत नक्शा दिखाए जाने पर प्रदेश के गृह मंत्री द्वारा कहा गया था कि टि्वटर इंडिया के हेड मनीष महेश्वरी पर एफआईआर  की जा रही है और उनकी गिरफ्तारी भी की जाएगी लेकिन उस मामले का कहीं कोई अता पता नहीं आज तक टि्वटर की तरफ से कोई अधिकारी तक पक्ष रखने नहीं आया। ऑनलाइन शॉपिंग साइट अमेजॉन द्वारा मप्र के भिंड में गांजा बेचे जाने का मामला आने पर अमेजॉन पर सख्त कार्यवाही की बात कही थी पर आज तक अमेजॉन पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है
भारतीय जनता पार्टी सरकार केवल धार्मिक भावनाओं की को भड़काकर राजनीति करती है कभी कोई मजबूत कार्यवाही नहीं करती है विशेषकर लगातार हिंदू धर्म की भावनाओं को सरकार की नाक के नीचे लगातार आहत किया जा रहा है।