MP Weather : 48 घंटे की बदलेगा मौसम, 4 संभागों में शीतलहर, 10 जिलों में बर्फीली हवा का अलर्ट जारी, इन क्षेत्रों में बारिश के आसार, जानें IMD पूर्वानुमान

48 घंटे में मध्य प्रदेश के मौसम में बड़ा बदलाव दिखेगा। कई क्षेत्रों में सर्द हवाओं का अलर्ट जारी किया गया जबकि 4 संभागों में शीतलहर की चेतावनी जारी कर दी गई है। कई क्षेत्रों में बारिश के आसार जताए गए हैं। जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान क्या कहता है।

MP Weather Update : मध्य प्रदेश के मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। शीतलहर की चेतावनी के बीच कई जिले में तापमान में भारी गिरावट शुरू हो गई है। इसके साथ ही 48 घंटे के भीतर कुछ जिले में बारिश की चेतावनी भी जारी कर दी गई है। मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड के कारण 18 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। मौसम विभाग की माने तो लोगों को 2 दिन तक राहत मिलेगी। हालांकि 22 जनवरी से फिर से मौसम में भारी बदलाव नजर आएंगे।

शीतलहर का येलो अलर्ट जारी

मध्य प्रदेश मौसम विभाग के मुताबिक जनवरी महीने के पहले 15 दिनों में तापमान 10 डिग्री से नीचे रिकॉर्ड किया गया है। कई जिलों में अभी न्यूनतम तापमान 5 डिग्री से नीचे रिकॉर्ड किया जा रहा है। पर्वतों पर हो रही जबरदस्त बर्फबारी और पश्चिमी विक्षोभ के असर से मैदानी इलाके में बर्फीली हवा का प्रवाह तेज हो गया। मध्यप्रदेश में एक बार फिर से सर्द हवाओं और ठिठुरन बढ़ गई है। सबसे कम तापमान में 2.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। इसके साथ ही ग्वालियर चंबल संभाग में भी शीतलहर का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

बीते 24 घंटे के दौरान दतिया, ग्वालियर, छतरपुर, रीवा, सतना सहित सागर और उमरिया मैं शीतलहर देखने को मिली है। हवा का रुख बदल गया है। शुक्रवार से कई क्षेत्रों में तापमान में 2 फीसद की वृद्धि देखी जाएगी। हालांकि 1 दिन के बाद कुछ क्षेत्रों में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया। मौसम प्रणाली की बात करें तो हवा का रुख उत्तरी है जबकि हिमालय पर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है।

मौसम प्रणाली

वर्तमान में एक अन्य वेस्टर्न डिस्टरबेंस पाकिस्तान के ऊपर निर्मित हुआ है। जिसके कारण से एक नई मौसम प्रणाली सक्रिय हो रही है। हालांकि यह प्रणाली ट्रफ के रूप में मौसम प्रणाली कमजोर हो गई है। जबकि एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ ईरान के आसपास निर्मित हुआ है। जिसके कारण 22 जनवरी से ग्वालियर चंबल, भोपाल और सागर संभाग के कई इलाकों में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

इन जिलों में तापमान 5 डिग्री से नीचे

ग्वालियर और नौगांव में न्यूनतम तापमान 2.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि शाजापुर, राजगढ़, खजुराहो में भी न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है कोहरे और धुंध की तीव्रता जारी है। इसके साथ ही ग्वालियर चंबल संभाग में शीतलहर का अलर्ट जारी किया गया है।

इन क्षेत्रों में शीतलहर की चेतावनी

उमरिया, जबलपुर, छतरपुर, सागर, रीवा, उमरिया, रतलाम और ग्वालियर में शीत लहर देखने को मिलेगी। इसके साथ ही छतरपुर, दतिया, रीवा, रायसेन में पाले का प्रभाव भी देखने को मिलेगा।

इन जिलों में तापमान में हुई बढ़ोतरी

खंडवा नरसिंहपुर और सिवनी में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से ज्यादा रिकॉर्ड किया गया है। वही कुछ क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान में भी 2 से 3 फीसद की वृद्धि देखने को मिल सकती है।