खराब प्रदर्शन के बाद समाजवादी पार्टी की एमपी इकाई भंग, हटाए गए प्रदेश अध्यक्ष

samajwadi-party-dissolved-mapdhya-pradesh-unit-

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में बेहद खराब प्रदर्शन के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एमपी इकाई को भंग कर दिया है। इस संबंध में एक पत्र जारी कर तत्काल प्रभाव से प्रदेश अध्यक्ष समेत सभी पदाधिकारियोंं को हटा दिया गया है। जल्द ही नई कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। वर्तमान में सपा की कामन गौरी सिंह यादव के हाथ में थी। 

दरअसल, मध्य प्रदेश में समाजवादी पार्टी ने चुनाव से पहले कांग्रेस से गठबंधन नहीं किया था। पार्टी को उम्मीद थी कि वह चंबल और विंध्य में अच्छा प्रदर्शन करेगी। लेकिन नतीजे उम्मीद के मुताबिक नहीं आए। प्रदेश की 230 सीटों में सिर्फ के सीट पर ही सपा को जीत मिली। हालांकि, सरकार बनाने के लिए सपा ने बसपा के साथ मिलकर कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया था। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि तीन राज्यों में विधानसभा चुनावों के​परिणाम का वह स्वागत करते हैं. उनहोंने कहा कि हालांकि समाजवादी पार्टी ने बेहतर प्रदर्शन नहीं किया लेकिन हम मध्यप्रदेश की जनता का आभार व्यक्त करते हैं. जिन्होंने हम पर विश्वास जताया।  बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा की 230 सीटों में से कांग्रेस को 114 सीटें, बीजेपी को 109, बसपा को दो, सपा को एक और अन्य को चार सीटें मिली हैं. सपा ने 10 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे।