किसानों को लेकर एक्टिव मोड पर शिवराज सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। शिवराज सरकार ने किसानों के हित में एक और निर्णय लेते हुए कमेटी गठित की है, सरकार के इस फैसले की जानकारी देते हुए प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश से गेहूं निर्यात को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में मंत्रालय में आयोजित की गई।

यह भी पढ़ें… MP युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत का आरोप, शिवराज का बुलडोजर सिर्फ गरीबों पर चलता

सरकार ने फैसला लिया है कि किसानों को उनकी फसल का अधिक से अधिक रेट मिल सके। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए कि मध्यप्रदेश से अधिक से अधिक गेहूं निर्यात हो ताकि किसानों को उनकी गेहूं की फसल का ज्यादा से ज्यादा दाम मिल सके। इसके लिए सरकार ने एक टीम गठित की है। जो राज्यों के बाहर जाकर निर्यातकों से संपर्क कर प्रदेश की मंडियों में पंजीयन कराकर किसानों से अधिक से अधिक गेहूं खरीद सके। कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया कि अभी तक 4 लाख 81 हजार मैट्रिक टन गेहूं निर्यात के लिए बंदरगाहों पर पहुंच चुका है। बाकी 20 लाख मैट्रिक टन गेहूं निर्यात करने का सरकार ने लक्ष्य रखा है।