CM शिवराज का ऐलान, MP में चलेगी 53 स्पेशल ट्रेनें, करीब 4 लाख लोगों ने किया रजिस्ट्रेशन

भोपाल।

देशव्यापी लॉकडाउन(lockdown) के बीच मजदूरों(labourers) के लगातार हो रहे हादसे के बीच प्रदेश की शिवराज सरकार ने एक बड़ी घोषणा की है। शिवराज सरकार(shivraj government) लगातार राज्य से बाहर फंसे मजदूरों को बसों एवं श्रमिक स्पेशल ट्रेनों(special trains) के जरिए वापस एमपी(MP) ला रही हैं।जिसके बाद अब सरकार मजदूरों की घर वापसी की रफ्तार तेज करने जा रही है। एमपी के मजदूरों को लाने के लिए शिवराज सरकार द्वारा 53 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाये जाने की घोषणा की है। वहीँ औरंगाबाद ट्रेन हादसे(aurangabad train incident) के बाद शिवराज सरकार मजदूरों से लगातार अपील कर रही है कि वह पैदल नहीं आएं। सरकार उन्हें लाने की व्यवस्था कर रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(shivraj singh chouhan) ने बताया की प्रत्येक मजदूर भाई को प्रदेश वापस लाया जाएगा।वे बिल्कुल चिंता न करें। वहीं अपर मुख्य सचिव आईसीपी केशरी(ICP Kesri) ने कहा कि मजदूरों को प्रदेश लाने के लिये 56 ट्रेनों की मांग रेल मंत्रालय(rail ministry) को भेजी गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बाहर फंसे नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने की अनुमति एवं व्यवस्था के लिये मजदूर एवं अन्य व्यक्ति नोडल अधिकारियों को फोन न करें। वे इसके लिये बनाये गये कॉल सेंटर 0755-2411180 पर फोन करें।

इधर दूसरी तरफ प्रमुख सचिव संजय दुबे ने बताया कि वापस आने के लिये अभी तक 3 लाख 90 हजार व्यक्तियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। बता दें कि मध्यप्रदेश के नागरिक दूसरे राज्यों में फंसे हैं और लॉकडाउन के कारण उन्हें रहने और खाने की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि लॉकडाउन के तीसरे फेज में रेड जोन इलाकों को छोड़कर रियायत दी गई है। बता दें कि कर्नाटक से पहली ट्रेन रविवार को मध्यप्रदेश के लिये रवाना होगी जो कि जबलपुर और ग्वालियर में रूकेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here