-shivraj-singh-chauhan-asks-public-hamse-ka-bhool-hui-painful-after-defeat-in-assembly-election

भोपाल।

मध्यप्रदेश में चुनावी हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री लगातार जनता से संपर्क बनाए हुए है, प्रदेशभर में दौरा कर रहे है। कभी सोशल मीडिया पर लोगों से सवाल-जवाब कर रहे है तो कभी प्रदेश का दौरा कर किसानों का हाल जान रहे है। इसी कड़ी में शुक्रवार को शिवराज शाजापुर में ओले से चौपट हुई फसलों का जायजा लेने और किसानों से मुलाकात करने कालापीपल पहुंचे। यहां सभा को संबोधिक करते हुए शिवराज इतने भावुक हो गए कि उन्होंने जनता से ही पूछ लिया हमसे का भूल हुई कि ये सजा हमको मिली। शिवराज सिंह का यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

दरअसल, मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में हार को पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान भूला नहीं पा रहे हैं। कालापीपल में लोगों को संबोधित करते हुए शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर दर्द छलका है। उन्होंने कवि के अंदाज में अपना दुखड़ा सुनाते हुए कहा कि  “मैंने मध्य प्रदेश की जनता की सेवा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। कालापीपल में नर्मदा मैया का पानी लाने की योजना बनाई। हमसे कोई नाराजगी थी क्या?’ हमसे का (क्या) भूल हुई कि ये सजा हमको मिली।” हालांकि इसके बाद शिवराज सिंह चौहान ने कविता की पक्तियां पढ़ते हुए कहा, “क्या हार में, क्या जीत में, किंचित नहीं भयभीत मैं, कर्त्तव्यपथ पर जो मिले, ये भी सही वो भी सही।”शिवराज के संबोधन के बाद लोगों ने  कहा – गलती हो गई ,आई लव यू मामा कहते हुए, हमें मामा चाहिए का नारा लगाया।  । अब शिवराज का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में 15 सालों से भाजपा का राज था। इसमें से 13 साल अकेले शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री रहे। चुनाव में भाजपा को 230 में 109 सीटें मिलीं, वहीं कांग्रेस को 114 सीटें मिलीं हालांकि वह बहुमत से दो कदम दूर रह गई। इसके बाद कांग्रेस ने सपा, बसपा और निर्दलीयों के सहारे सरकार बनाई। इस चुनाव में भाजपा के दिग्गज मंत्रियों समेत 11 नेता नोटा को मिले वोटों से भी कम अंतर से हारे हैं।