इन जिलों पर विशेष फोकस, सीएम शिवराज सिंह बोले- अधिकारी और प्रभारी मंत्री तेजी से काम करें

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि स्थानीय स्तर पर ऑक्सीजन प्लांट स्थापना का कार्य किया जा रहा है। अभी तक 6 ऑक्सीजन प्लांट क्रियाशील हो गए हैं।

CM शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बढ़ते कोरोना (Corona) के आंकड़ों पर चिंता जताते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) निर्देश दिए है कि किल कोरोना अभियान पर अधिकारी एवं प्रभारी मंत्री तेजी से काम करें।  हमें यह प्रयास करना है कि भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन एवं ग्वालियर में ऑक्सीजन (Oxygen) एवं बेड की आपूर्ति एवं उपलब्धता को कैसे बढ़ाया जाए।सरकारी अस्पताल (Government Hospital) के साथ निजी अस्पताल (Private hospital) में बिस्तरों की संख्या में किस प्रकार वृद्धि की जा सकती है।

यह भी पढ़े.. पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता का कोरोना से निधन, सीएम और सिंधिया ने जताया शोक

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड केयर सेन्टर बनाए गए हैं। इन सेंटर का बेहतर से बेहतर इस्तेमाल करें। ग्रामीण क्षेत्रों में भी ग्रामीण महिलाओं ने स्वयं लोगों के आने-जाने पर रोक लगाई है। स्वत: कफर्यू (Janta Curfew) भी अपने गाँवों में लगाये हैं। उन्होंने कहा कि शहरों में माइक्रो कन्टेन्टमेंट बनाएं।  होम आइसोलेटेड मरीजों के पास कोविड गाइड-लाइन के संबंध में एक पैम्फलेट किट के साथ पहुँचाए। होम आइसोलेसन (Home Isoation) के मरीजों से कोविड की प्रॉपर गाइडलाइन का पालन करवाया जाये।होम आइसोलेसन को इस प्रकार से सुनियोजित करें कि देश भर में आइडियल बने।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि स्थानीय स्तर पर ऑक्सीजन प्लांट स्थापना का कार्य किया जा रहा है। अभी तक 6 ऑक्सीजन प्लांट क्रियाशील हो गए हैं। आगामी एक-दो दिन में चार प्लांट ओर शुरू हो जायेंगे।  देवास, मंडला, दमोह, छतरपुर, होशंगाबाद, राजगढ़, शाजापुर, भिण्ड, सीधी, पन्ना एवं धार में भी पीएसए आधारित 11 नए ऑकसीजन प्लांट स्वीकृत किए गए हैं। इस तरह पीएसए आधारित कुल 63 प्लांटों का कार्य तेजी से प्रगतिरत है।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं का रिजल्ट CBSE की तर्ज पर बनाने की तैयारी, 12वीं पर सस्पेंस बरकरार

बैठक में अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि इंदौर एवं भोपाल में नए प्रकरणों में जहाँ कमी आई है वहीं ग्वालियर में कोविड के नए केस सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि जिन जिलों में एक सप्ताह में 50 से कम नए केस पंजीकृत हुए हैं, उनमें सबसे कम 13 केस उमरिया जिले में दर्ज किए गए हैं।ऑक्सीजन टैंकर के लिए रियल टाइम मैनेजमेंट का नियम बनाए।

मंत्रियों ने दिए यह सुझाव

बैठक में राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत (Revenue and Transport Minister Govind Singh Rajput) ने सुझाव दिया कि गुना के विजयपुर स्थित गेल के पास ऑक्सीजन भी है और टैंकर भी, जिनका हमें उपयोग करना चाहिए। इस पर सीएम शिवराज सिंह ने अधिकारियों को वस्तु-स्थिति से अवगत कराने के लिए कहा। लोक निर्माण विभाग मंत्री गोपाल भार्गव (PWD Minister Gopal Bhargava)ने सुझाव दिया कि हमें आक्सीजन के सुव्यवस्थित वितरण पर ध्यान देना है। ऑक्सीजन हॉस्पिटल को कितनी दी गई, कितनी उसकी खपत हुई और उसका पूरा ऑडिट भी कराया जाना चाहिए।