MP Board: 10वीं का रिजल्ट CBSE की तर्ज पर बनाने की तैयारी, 12वीं पर सस्पेंस बरकरार

mp board

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंडल( MP Board of Secondary Education ) के 10वीं के छात्रों को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है।सुत्रों के अनुसार, आज सोमवार को हुई स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार की अध्यक्षता में बैठक में 10वीं का रिजल्ट CBSE की तर्ज पर आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर बनाने पर सहमति बनी है, ताकी छात्रों को दूसरे राज्यों में एडमिशन मिलने में आसानी हो सकें।वही 12वीं को लेकर कोई सहमति नहीं बनी है।

यह भी पढ़े.. MPPSC: एमपीपीएससी से जुड़ी काम की खबर, 30 अप्रैल तक कर सकते है आवेदन

दरअसल, पिछले महिने कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल (MP Board) द्वारा 30 अप्रैल से आयोजित होने वाली  10वीं और 12वीं की परीक्षाओं ( MP Board Exams 2021) को स्थगित कर दिया था, चुंकी आंकड़े दिनों दिन बढ़ रहे है, वर्तमान में 92 हजार के करीब एक्टिव केस पहुंच गए है, ऐसे में परीक्षाएं में परीक्षा करवाना संभव नहीं। हालांकि स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार (Indar Singh Parmar) अपने पिछले बयान में जनरल प्रमोशन देने से साफ मना चुके थे, इसी के चलते यह रास्ता निकाला गया है, ताकी भविष्य में छात्रों को कोई परेशानी ना हो।

आज सोमवार को हुई बैठक में MP Board की आंतरिक मूल्यांकन या ऑनलाइन कक्षाओं (Online Classes) को लेकर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि कक्षा 10वीं तक की पढ़ाई के बाद छात्र भविष्य और करियर को देखते हुए राज्य और अन्य राज्यों में सीबीएसई स्कूलों में एडमिशन लेते हैं, इसका उदाहरण पिछले साल देखने को मिला था,जब एमपी बोर्ड के रिजल्ट के आधार पर स्टूडेंट को अन्य राज्यों में एडमिशन मिलने में दिक्क्त आई थी, ऐसे में अब सीबीएसई की तर्ज पर रिजल्ट तैयार करने पर सहमति बनी है, लेकिन अंतिम निर्णय जल्दी लिया जाएगा।

यह भी पढ़े.. मप्र में आंकड़ों ने फिर चौंकाया, 13601 नए केस और 92 की मौतें, सीएम ने लिया बड़ा फैसला

वही सूत्रों के मुताबिक बैठक में कक्षा 12वीं की परीक्षा को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं हो पाया है।हालांकि बीते महिने स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department)ने 12वीं परीक्षा 12वीं की परीक्षाएं जून माह में कराने की तैयारी की है, लेकिन यह परीक्षा ऑनलाइन होगी या ऑफलाइन, या इसे और आगे बढ़ाया जाएगा, इस पर अंतिम फैसला होना बाकी है, लेकिन कोरोना के बढ़ते आंकड़ों और छात्रों के भविष्य को देखते हुए परीक्षा ऑफलाइन कराने के ज्यादा चांस है।

सुत्रों की मानें तो CBSE की तर्ज पर ही MP Board भी 10वीं की परीक्षा में आंतरिक मूल्यांकन (internal assessment) के आधार पर परीक्षा रिजल्ट (result) घोषित किए जाने की तैयारी में है।बैठक में भी 10वीं के छात्रों के परीक्षा परिणाम उनके अर्धवार्षिक परीक्षा के अंक और रिवीजन टेस्ट के आधार पर तैयार करने का फैसले पर सहमति भी बनी है, इसके लिए निजी स्कूलों से भी जानकारी मांगी गई है।हालांकि अभी अंतिम फैसला होना बाकी है।