कमिश्नर के कड़े संकेत, नहीं छोड़े जाएंगे माफिया

भोपाल| मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर प्रदेश भर में माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई जारी है| इसी क्रम में राजधानी भोपाल में भी ऐसे माफियों की सूची तैयार कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है| इस सम्बन्ध में एडीजी/आईजी भोपाल जोन आदर्श कटियार, संभागायुक्त श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव, डीआईजी शहर इरशाद वली व कलेक्टर भोपाल तरुण पिथोड़े ने पुराने पुलिस कंट्रोल रूम में संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता कर जानकारी दी| 

संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव ने बताया जिन पर कार्यवाही होना है उन भूमाफियाओं की सूची बनाई गई है| साथ ही जिला प्रशासन को निर्देश है कि विभिन्न माफियाओं को सूचीबद्ध किया जाए| वो संगठित लोग जिससे कई लोग प्रभावित हो रहे है, परेशान हो रहे है, ऐसे लोगो को चिन्हित किया जा रहा है, जिसमे गुमठी माफिया और पार्किंग माफिया भी शामिल है| वहीं सांची दूध में मिलावट मामले में उन्होंने कहा इस मामले की जांच की जा रही है, इसमे जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ भी कार्यवाही होगी| 

डराने धमकाने की कोशिश करे तो प्रशासन को दें सूचना 

भोपाल कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने कहा जैसे जैसे सूचनाएं मिल रही है कार्यवाही हो रही है, सभी कार्यवाही पारदर्शी तरीके से हो रही है,  बिना भेदभाव के कार्यवाही हो रही है, केरवा रोड पर दो प्रकार की कार्यवाही जारी है, जिसमे ड्रग और बिना इजाजत के निर्माण वालो पर कार्यवाही जारी है, जिनके पास कोर्ट या अन्य दस्तावेज है उन पर कार्यवाही नही हो रही है| उन्होंने बताया कि दो प्रकार की कार्यवाही की जा रही है, एक सामान्य कार्यवाही, दूसरी माफियाओं के खिलाफ, जैसे भूमाफियाओं के खिलाफ, कार्यवाही के दौरान स्पष्ट है कि आम नागरिक के खिलाफ यह कार्यवाही नही है, बल्कि संगठित गिरोह के खिलाफ कार्यवाही है| उन्होंने कहा अगर कार्यवाही को लेकर कोई डराने धमकाने की कोशिश करता है तो उसकी जानकारी प्रशासन को दे| 

अब तक 3 सोसायटियो पर एसएफआई 

डीआईजी इरशाद वली ने कहा विशेष अभियान में जिला प्रशासन से समन्वय स्थापित है, साथ ही विभिन्न विभागों से जानकारी लेकर ही संगठित अपराधों पर ही कार्यवाही कर रहे है, माफियाओं को आम घटनाओं या अपराधों से अलग करके देखने की जरूरत है| उन्होंने बताया अब तक 3 सोसायटियो पर कार्यवाही की गई है, 4 वसूली से सम्बंधित एफआईआर दर्ज हुई है, कुछ मामलों में जांच जारी है|