भोपाल। शाहजहांनाबाद थाना क्षेत्र स्थित वाजपेयी नगर मल्टी की तीसरी मंजिल से रहस्यमय ढंग से गिरकर सातवीं कक्षा की 14 वर्षीय छात्रा की मौत हो गई। घटना मंगलवार शाम की है। गंभीर रूप से घायल छात्रा को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां बुधवार सुबह इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मृत्युपूर्व बयान नहीं होने के कारण फिलहाल इस बात का खुलासा नहीं हो सका है कि किशोरी किन परिस्थितियों में नीचे गिरी है। परिजनों का कहना है कि खेलते समय उनकी बेटी नीचे गिरी है हालांकि उन्होंने भी घटना को नहीं देखा है। पुलिस ने मर्ग कायम कर तफ्तीश शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि शार्ट पीएम रिपोर्ट आने के बाद तफ्तीश आगे बढ़ाई जाएगी। पुलिस के मुताबिक वाजपेयी नगर मल्टी शाहजहांनाबाद की तीसरी मंजिल पर रहने वाले मोहर सिंह प्राइवेट काम करते हैं। उनकी 14 वर्षीय बेटी प्रियंका सिंह सातवीं कक्षा की छात्रा थी। मंगलवार 21 जनवरी की शाम प्रियंका सिंह तीसरी मंजिल पर रहने वाले अपने पड़ोसी के घर खेलने गई थी। परिजनों का कहना है कि उस समय पड़ोसी के घर में कोई नहीं था। कुछ देर बाद ही तेज आवाज मल्टी के नीचे एक दुकानदार को सुनाई दी। दुकानदार ने देखा कि प्रियंका सिंह लहूलुहान हालत में जमीन पर बेहोश पड़ी है। बच्ची के नीचे गिरने की सूचना मिलते ही हडक़ंप गया। आनन-फानन में बालिका को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी लेकिन होश में नहीं आने के कारण बालिका के मृत्युपूर्व बयान नहीं हो सके थे। बुधवार सुबह इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पीएसआई योगिता जैन ने बताया कि परिजनों अथवा उनके अलावा किसी भी पड़ोसी या अन्य किसी भी व्यक्ति ने बालिका को नीचे गिरते नहीं देखा है। सिर्फ अनुमान लगया जा रहा है कि वह खेलते समय नीचे गिरी थी। तफ्तीश के बाद ही खुलासा हो सकेगा कि बालिका खेलते समय खुद गिरी है अथवा किसी ने उसे धक्का दिया है।