कांग्रेस पर चीन से मिलीभगत के आरोप पर तन्खा का ट्वीट, पुराने मामले को मुद्दा बना रही भाजपा

विवेक तन्खा

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा उनचुनाव से पहले सियासी सरगर्मी तेज हो गई है। ऐसे में गुरुवार को भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की वर्चुअल रैली के संबोधन ने आग मेें घी का काम किया है। दरअसल नड्डा ने रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस का चीन से गुपचुप रिश्ता होने की बात कही थी और कमलनाथ को चीन का एजेंट तक बता दिया था। नड्डा के इस बयान के बाद भाजपा की ओर से हमले तेज हो गए, जिस पर कांग्रेस आगबबूला हो गई है। इस बीच वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने ट्वीट कर भाजपा पर निशाना साधा है।

विवेक तन्खा ने ट्वीट कर चीन के मुद्दे पर केन्द्र सरकार और भाजपा पर जनता को भटकाने का आरोप लगाया है। तन्खा ने ट्वीट कर कहा है कि कांग्रेस पर चीन से मिलीभगत के आरोप मुर्खतापूर्वक है। अपने निर्णय की विफलता के लिए देश से क्षमा याचना मांगने की बजाय भाजपा 2005 के पुराने मुद्दे को 2020 में उठा रही है। आगे तन्खा ने कहा कि भाजपा क्या वाकई चीन से लड़ाई में गंभीर है या केवल पहेलियां बुझा रही है इसके साथ ही उन्होंने सरहद और सैनिकों की सुरक्षा पर ध्यान देने की नसीहत देते हुए कहा कि हमें एक चालाक दुश्मन से सामना करना है इसलिए आगे बढक़र हमारी सीमाओं की रक्षा करने पर ध्यान केंद्रित करें।

गौरतलब है कि अपने संबोधन में नड्डा ने चीन और कांग्रेस के बीच गुपचुप रिश्ते का बड़ा दावा करते हुए कहा कि राजीव गांधी फाउंडेशन को साल 2005-2006 में चाइनीज एंबेसी से मोटी रकम मिली। उस समय तत्कालीन मनमोहन सिंह सरकार में वर्ष 2004 से 2009 तक कमलनाथ केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री रहे थे। उन पर भी नड्डा ने गंभीर आरोप लगाए थे।