‘कितने वचन निभाए जनता को बताओ’, सीएस ने अफसरों को दिए निर्देश

भोपाल। प्रदेश में कांग्रेस ने सरकार में आते ही बचन पत्रों पर अमल करना शुरू कर दिया था। वचन पत्रों पर किए गए काम की समीक्षा के लिए मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने आज मंत्रालय में आधा दर्जन से अधिक विभागों के प्रमुख सचिव एवं अन्य अधिकारियों की बैठक बुलाई। जिसमें मोहंती ने तल्ख लहजे में कहा कि विभागों ने जितने वचन निभाए हैं उसे पोर्टल पर अपडेट क्यों नहीं किया। सबसे खराब हालत आदिम जाति कल्याण विभाग की सामने आई। 

मोहंती ने कहा कि जितनी जल्दी हो सके वचनों के बारे में विभाग अपनी-अपनी जानकारी पोर्टल पर उल्लेख करें।  बता दे कि प्रदेश सरकार आदिवासियों के हित में प्राथमिकता से काम कर रही है लेकिन जिस तरह से आदिम जाति कल्याण विभाग में वचन पत्र के पूरा होने के बारे में पोर्टल पर उल्लेख नहीं किया उस पर मुख्य सचिव ने नाराजगी जाहिर की है। साथ ही ऊर्जा विभाग की समीक्षा में कहा गया कि जो जो वचन पत्र में बिंदु शामिल है उन्हें हर हाल में पूरा करना है और पोर्टल के माध्यम से जनता के सामने रखना है इसी तरह अनुसूचित जाति विभाग का परफॉर्मेंस भी ठीक नहीं था। 

सामाजिक न्याय विभाग को निर्देश दिए गए कि जिन वचनों पर काम किया है उनका जमीनी स्तर पर भली-भांति क्रियान्वयन हो रहा है या नहीं इसकी भी समीक्षा की जाए | बैठक में सामाजिक न्याय विभाग के प्रमुख सचिव जेएन कंसोटिया भी शामिल हुए। साथ ही मछली पालन विभाग की समीक्षा बैठक भी आयोजित की गई। मोहंती ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता में वचनों को पूरा करना है इसलिए सभी वचनों पर फोकस करें  इसके लिए मुख्य सचिव ने सभी विभाग के अधिकारियों से समय सीमा भी तय कर दी है अगली बैठक में इसका पूरा ब्यौरा रखा जाएगा