राजधानी में खून की होली, पानी फैलाने को लेकर विवाद में हत्या, रंग लगाने पर चाकू मारा

two-big-crime-in-bhopal-on-holi-celebration

भोपाल। राजधानी में होली की सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर तमाम दावे करने वाली पुलिस की शांति व्यवस्था की पोल कल दिन दहाड़े खुल गई। बागसेवनिया थाना इलाके में पानी फैलाने को लेकर शुरू हुए विवाद में एक युवक की हत्या कर दी गई। हत्या से पूर्व घंटो तक विवाद चलता रहा। जिसकी भनक पुलिस को नहीं लगी। वहीं जघन्य हत्याकांड को लेकर अधिकारियों के बयानों के बीच विरोधाभास नजर आ रहे हैं। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। हत्या के आरोप में एक महिला और एक युवक को हिरासत में लिया गया है। शव का मरचुरी रूम में पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार फरियादी जितेंद्र मालवीय पिता रामप्रसाद मालवीय (23) निवासी दिक्षा नगर बागमुगालिया महनत मजदूरी कार्य करता है। उसने पुलिस को बताया कि मृतक मुकेश मालवीय उसका बड़ा भाई है। कृष्णा मालवीय उनका रिश्तेदार है। वह भी उसी घर में किराए से रहता है, जहां वह रहते हैं। कृष्णा की पत्नी व सामने रहने वाली रिश्तेदार मंजू मालवीय में बुधवार शाम को पानी भरने को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद से ही दोनों परिवारों में तनाव का महौल था। गुरुवार को होली खेलने के बाद में कृष्णा ने अपने घर को धोया था। तब पानी फैलाने को लेकर मंजू और कृष्णा की पत्नी के बीच एक बार फिर विवाद हुआ। दोनों ओर से झूमाझटकी हुई। बीच-बचाव कर दोनों पक्षों को स्थानीय लोगों और रिश्तेदारों ने अलग कर दिया। कुछ देर बाद में मंजू ने अपने भांजे आशीष तथा उसके साथी दीपक वैध, जगेश गिरी व अन्य को बुला लिया। सभी आरोपी स्कॉरपियो क्रमांक एमपी 04सीजी4826 में सवार होकर आए थे। आरोपियों ने आते ही मंजू के साथ मिलकर कृष्णा के परिवार पर हमला किया। बीच बचाव में मुकेश चला गया। उसने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया। इसी दौरान आरोपियों ने उसके साथ में मारपीट शुरु कर दी। आरोपी आशीष ने अपने पास रखी बड़ी सी छुरी को मुकेश के पेट में घोंप दिया। जिससे उसकी आंते स्पॉट पर ही बाहर आ चुकी थी। परिजनों ने घायल को अस्पताल पहुंचाया। जहां डाक्टरों ने चेक करने के बाद में उसे मृत घोषित कर दिया। 

– अधिकारियों के बयानों विरोधाभास

एसडीओपी अनिल त्रिपाठी ने बताया कि कृष्णा और मंजू आमने सामने रहते हैं। कृष्णा ने शाम को पानी फैला दिया था। जिसके बाद में मंजू के पति और उसके बीच विवाद हुआ। कृष्णा ने मंजू के पति से बदसलूकी कर दी। जिसके बाद में मंजू ने अपने रिश्तेदारों को बुलाकर उसके घर हमला किया था। इसी दौरान बीच बचाव में आए मुकेश की मंजू व साथियों ने हत्या कर दी। मामले में मंजू और आशीष नाम के युवक को हिरासत में ले लिया गया है। वहीं थाना प्रभारी उमराव सिंह के अनुसार विवाद पानी भरने को लेकर महिलाओं के बीच शुरु हुआ था। जिसके बाद में मंजू नाम की महिला ने अपने परिजनों और परिचितों के साथ मिलकर हत्याकांड को अंजाम दिया। हत्या के पूर्व थाने में अथवा डायल 100 पर पुलिस को किसी ने सूचना नहीं दी थी।

नशे में धुत होकर कलर लगाने को लेकर विवाद, युवक को चाकू मारा

भोपाल। गोविंदपुरा थाना इलाके में कल दोपहर को नशे में धुत होकर हुड़दंग मचा रहे युवकों की एक परिवार ने धुनाई कर दी। आरोपियों ने एक युवक को चाकू मारकर घायल कर दिया। हमलावरों ने इस दौरान पथ्राव भी कर दिया। मामले में पुलिस ने मारपीट, धारदार हथियार से वार करने, पत्थर मारने सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया है। फिलहाल किसी की भी गिरफ्तारी नहीं की जा सकी है। पुलिस के अनुसार फरियादी लोकेश मालवीय पिता महेश मालवीय (21)शंकर नगर बरखेड़ा पठानी मेडिकल स्टोर का संचालन करता है। कल दोपहर को वह शंकर नगर स्थित मर्घट के पास में दोस्त शुभम व अन्य के साथ होली खेल रहा था। इस दौरान उसके दोस्त नशे में थे और हुड़दंग कर रहे थे। तभी किसी ने पास में रहने वाले विकास मालवीय के घर की तरफ कलर फैंक दिया। कुछ देर बाद में विकास अपने भाई दीपक के साथ में उनके पास पहुंचा और शुभम तथा उसे व अन्य दोस्तों को बिना कोई बात किए पीटने लगे। इसी दौरान विकास के चाचा प्रभु व उनकी पत्नी भी आ गई। उन्होंने विभम की तरफ पत्थर फैंककर मारे। तभी विकास ने चाकू से लोकेश के पांव में वार कर दिया। इसके बाद में सभी आरोपी जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है।