मौसम विभाग ने फिर जारी की शीतलहर की चेतावनी, यहां पड़ सकता है पाला

weather-department-warning-for-cold-wave

भोपाल। मध्य प्रदेश ठंड का कहर लगातार जारी है। कड़ाके की ठंड से प्रदेश के दर्जन भर जिले शीतलहर की चपेट में हैं। मौसम विभाग ने फिर शीतलहर चलने की चेतावनी जारी की है। यही नहीं किसानों को सबसे अधिक मौसम की मार झेलना पड़ रही है। रविवार को पड़े पाले ने फसल खराब कर दी। किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है। वहीं, उत्तरी हवाओं के प्रभाव से कपकपा देने वाली सर्दी का दौर प्रदेश में कई स्थानों पर बना हुआ है। राजधानी भोपाल में हवाओं के रुख में बदलाव के चलते पिछले कई दफा मौसम ने मिजाज बदला है। यहां रात के पहर में सर्दी का असर दिन की अपेक्षा ज्यादा रहता है। यह स्थिति कई दिनों से लगातार बनी हुई है।

यहां शीतलहर की चेतावनी

राज्य के पूर्वी हिस्से में आने वाले सतना, रीवा, पन्ना, टीकमगढ़, बालाघाट, उमरिया, शहडोल, अनूपपुर, डिंडौरी, जबलपुर, मंडला और दमोह के साथ ही पश्चिमी हिस्से में आने वाले ग्वालियर, भिंड, मुरैना, दतिया, बैतूल, होशंगाबाद में अगले 24 घंटे के दौरान कहीं-कहीं शीतलहर चलने के आसार है।

इन जिलों में पाला पड़ने की आशंका

मौसम विभाग के अनुसार रीवा, सतना, पन्ना, छतरपुर, टीकमगढ़, दतिया, ग्वालियर, भिंड, मुरैना, होशंगाबाद, बैतूल, उमरिया, अनूपपुर, डिंडौरी, जबलपुर, मंडला और बालाघाट जिले में कहीं-कहीं पाला पड़ सकता है।

मौसम वैज्ञानिकों की माने तो आने वाले दिनों में मौसम के मिजाज में मामूली रुप से गिरावट के अलावा कोई बदलाव होने के आसार नही है। आंकड़ों की बात करें तो प्रदेश के कई स्थानों पर कई दिनों से न्यूनतम तापामन 2 डिग्री से 4 डिग्री के बीच बना हुआ है। पिछले दिनों राज्य के बैतूल, खजुराहो और मंडला जिले में न्यूनतम तापमान 2 से 4 डिग्री के बीच दर्ज किया गया। राज्य के पश्चिमी हिस्से में आने वाले अधिकांश स्थानों पर अधिकतम तापमान 22 डिग्री से 26 डिग्री के बीच दर्ज किया गया। इस हिस्से में आने वाले पर्यटन नगरी पचमढ़ी में आज न्यूनतम तापमान 1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस इलाके में दूसरे स्थानों की अपेक्षा सबसे ज्यादा ठंडा शहर पचमढ़ी रहा। इसके बाद बैतूल और तीसरा स्थान खरगौन रहा जहां न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।