-Women's-safety-and-criminals-should-bring-fear-of-police-priority-DIG-Bhopal-irshad-vali

भोपाल। फराज़ मुस्तफा| आईपीएस इरशाद वली जल्द ही भोपाल डीआईजी के तौर पर ज्वाइन करने वाले हैं। 2004 बेच के आईपीएस इरशाद वली सख्त मिजाजी और कार्य के लिए समर्पित रहने वाले ईमानदार अधिकारी के रूप में जाने जाते हैं। तबादला सूची जारी होने के बाद में बीती रात बालाघाट के पाइनेटा क्षेत्र छग बार्डर पर एक ज्वाइंट आपरेशन में बालाघाट पुलिस और छग पुलिस की नकसलियों से जबदस्त मठभेड़ हुई है। इस एनकाउंटर में किसी के मारे जाने की खबर नहीं है। बालाघाट डीआईजी इरशाद वली ने बताया कि जल्द ही वह सभी जरूरी कार्य पूर्ण करने के बाद में भोपाल ज्वाइन करेंगे।

आईपीएस इरशाद वली ने बताया कि महिला में सुरक्षा का और अधिक भाव पैदा करना, महिला अपराधों में कमी लाना, अपराधियों के दिल में खौफ पैदा करना तथा आमजनों और पुलिस के बीच में फ्रेंडली रिलेशन डेवलप कराना उनकी प्राथमिकता रहेगी। जुआ,सट्टा, मादक तस्करों और अन्य अवैध करोबार करने वालों के खिलाफ विशेष मुहीम चलाकर अंकुश लगाया जाएगा। गौरतलब है कि आईपीएस इरशाद वली को भुगौल में महारत हासिल है। पूर्व में वह जहां भी पदस्थ रहे, उन्होंने स्कूलों और कॉलेजों में छात्र और छात्राओं को भुगौल की बारीकीयां समझाई हैं।