साल के पहले ही दिन अव्यवस्था की भेंट चढ़ा नसबंदी शिविर

mismanagement-in-Sterilization-camp-in-burhanpur

बुरहानपुर। शेख रईस।

बुरह���नपुर में नवनिर्मित शासकीय अस्पताल आये दिनों सुर्खियों में रहता है ताजा मामला मंगलवार को नशबंदी शिविर में देखने को मिला। शासकीय अस्पताल में मंगलवार को सुबह से ही नसबंदी को लेकर परिजन एवं आशा कार्यकर्ताओं ने महिलाओं को शिवर में ऑपरेशन करने के लिए आये थे। 

भर्ती महिलाओ को अस्पलात में नसबंदी पूर्व लगने वाले इंजेक्शन लगाने के उपरांत भी ऑपरेशन करने के लिए नियुक्त डॉ शाम 5 बजे तक अस्पताल नही पंहुचे। महिलाओ के साथ आये परिजन ,आशा कार्यकर्ताओं ने लेटलतीफ के कारण हंगामा किया साथ ही अव्यवस्था को लेकर नशबंदी शिविर प्रभारी बी.डी.शर्मा को जमकर खरी खोटी सुनाई। जब हमने शिविर में फैली अव्यवस्था को लेकर नसबंदी शिविर प्रभारी शर्मा से बात की तो उन्होंने गोलमाल जवाब देकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए कहा डॉ बाहर से आ रहे है इसलिए देर हो रही है जल्द ही डॉ साहब के आते ही ऑपरेशन कर दिए जाएंगे। वही परिजनों का कहना है कि भूखे प्यासे दिन भर से बैठा कर रखा है सुबह से जिम्मेदार बार बार कह रहे है डॉ साहब आ रहे है अभी तक कोई सही जानकारी भी अस्पताल प्रबंधन नही दे पा रहा है। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों से करीब 30 से ज्यादा मरीज नशबंदी शिविर में मरीज आये थे।