Chhatarpur News : पुलिस प्रताड़ना से तंग युवक ने की थी आत्महत्या, एसपी के निर्देश पर चौकी प्रभारी सहित दो गिरफ्तार

Amit Sengar
Published on -

Chhatarpur News : छतरपुर जिले में पिछले दिनों किशनगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत में आने वाली कुपी चौकी प्रभारी सहित एक अन्य व्यक्ति पर आरोप लगे थे कि उनकी प्रताडऩा से तंग आकर एक युवक ने आत्महत्या कर ली है। इस मामले की जांच में चौकी प्रभारी को दोषी पाया गया है और पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में चौकी प्रभारी सहित सह आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई की गई है।

यह है मामला

प्राप्त जानकारी के मुताबिक तत्कालीन कुपी चौकी प्रभारी एएसआई श्रीकांत पाठक पर कुपी निवासी विश्वकर्मा परिवार ने आरोप लगाया था कि परिवार के नाथूराम विश्वकर्मा का गांव के ही दुर्जन सिंह से किसी बात को लेकर विवाद हुआ था जिसके बाद चौकी प्रभारी ने नाथूराम विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया और उसके साथ मारपीट की। पुलिस की इसी प्रताडऩा से परेशान होकर चौकी से छूटने के बाद 13 मई को नाथूराम ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। परिजनों ने इस मामले में चौकी प्रभारी श्रीकांत पाठक और दुर्जन सिंह पर कार्यवाही की मांग की थी। करीब दो सप्ताह पहले पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने कुपी चौकी प्रभारी को हटा दिया था और धारा 306 के तहत मामला पंजीबद्ध कर जांच शुरू की गई थी।

पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि जांच में यह बात सत्य पाई गई है कि चौकी प्रभारी श्रीकांत पाठक और दुर्जन सिंह की प्रताडऩा से तंग आकर ही नाथूराम ने आत्महत्या की थी, जिसके लिए चौकी प्रभारी श्रीकांत पाठक और दुर्जन सिंह को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है।
छतरपुर से सुबोध त्रिपाठी की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News