छतरपुर में कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने पहुंची पुलिस पर भीड़ ने किया हमला, आरक्षक को जमकर पीटा

बाजार में भीड़ को रोकने के लिए डायल 100 में मौजूद ड्राईवर और एक सिपाही यहां पहुंचे थे, जहां पर ग्रामीणों ने आरक्षक पर हमला कर दिया।

छतरपुर, संजय अवस्थी। छतरपुर (Chhatarpur) में बमीठा थाना क्षेत्र के ग्राम झमटुली में कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) का पालन कराने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। वहीं छतरपुर पुलिस (Chhatarpur Police) के एक आरक्षक के साथ भीड़ के द्वारा दौड़ा-दौड़ाकर पीटा जिसका वीडियो विचलित करने वाला है। इस वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि आरक्षक के पीछे एक दर्जन से ज्यादा लोग डण्डा लेकर दौड़ रहे हैं। किसी तरह वह जान बचाने के लिए एक घर में घुसता है जहां भीड़ उस पर टूट पड़ती है। भीड़ के द्वारा डण्डों से सिपाही की मारपीट की जाती है और फिर लोग मौके से भाग जाते हैं।

यह भी पढ़ें…स्थापना के 73 साल बाद भी प्रदेश के इस जिले को विकास की आस

ये है मामला  
दरअसल शुक्रवार को झमटुली में बाजार लगता है। जहां बमीठा थाने की पुलिस क्षेत्र के ग्राम झमटुली में कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने पहुंची थी। जिसके बाद बाजार में भीड़ को रोकने के लिए डायल 100 में मौजूद ड्राईवर और एक सिपाही यहां पहुंचते हैं। और लोगों को दुकानें बंद करने की समझाइश देते हैं। जिसके बाद हल्लनपुरी नामक एक व्यक्ति दुकान बंद करने से मना करता है, तो सिपाही संतराम उसे डण्डा मार देते है। डण्डे की चोट के कारण पहले से नशे में मौजूद हल्लन के सिर से खून निकल आता है। खून को बहता देख हल्लन सहित अन्य लोग डण्डा लेकर पुलिस की ओर दौड़ पड़ते हैं। डायल 100 का ड्राईवर जान बचाने के लिए गाड़ी लेकर भाग जाता है। लेकिन आरक्षक संतराम भीड़ से नहीं बच पाते। भीड़ आरक्षक को दौड़ाते हुए खदेड़ती रहती है। इसी बीच एक घर में शरण के लिए घुसे संतराम पर पीछे से पहुंची भीड़ जमकर डण्डे बरसाती है। किसी तरह आसपास के लोग जमा होते हैं और मारपीट कर रहे लोगों को मौके से भगाते हैं। कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने झमटुली गई पुलिस पर हमले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पुलिस बल भेजा गया है। घायल आरक्षक का इलाज कराने के बाद मारपीट करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें…गुना कलेक्‍टर ने ग्राम टांड़ा, पाली, गोमचीखेड़ा और तिनस्‍याई का किया दौरा, ग्रामीणों से की चर्चा