पंचायतों को सामग्री देने वाली फर्म पर छापा, लाखों रूपए की कर चोरी उजागर

छतरपुर, संजय अवस्थी। ग्राम पंचायतों को निर्माण सामग्री देने वाली फर्म द्वारा टैक्स की चोरी की गई थी। फर्म ने या तो टैक्स दिया नहीं है या फिर निर्धारित टैक्स से काफी कम भरा है। इसे लेकर कर आयुक्त के निर्देश पर वाणिज्यकर विभाग द्वारा छापामार कार्यवाही की गई। बुनियादी तौर पर 15 से 20 लाख रूपए के कर चोरी का मामला सामने आ रहा है।

राज्य कर अधिकारी जीएन शर्मा ने बताया कि शहर के मेला ग्राउण्ड में स्थित गौरी ट्रेडर्स द्वारा पंचायतों में निर्माण सामग्री दी गई है लेकिन इसके बदले जो राजस्व वाणिज्यकर विभाग के खाते में जाना चाहिए वह नहीं जमा किया गया। दोपहर करीब 12 बजे से गौरी ट्रेडर्स पर जांच शुरू की गई और यह जांच देर शाम तक चलती रही। जीएन शर्मा के मुताबिक गौरी ट्रेडर्स के संचालक राजेन्द्र सिंह तोमर ने या तो टैक्स भरा नहीं है या फिर आधा अधूरा भरा गया है। सामग्री सप्लाई के बदले होने वाली आय का टैक्स न भरे जाने पर यह छापा मारा गया है। फर्म संचालक ने जो दस्तावेज दिए हैं और विभिन्न माध्यमों से हासिल हुए दस्तावेजों के आधार पर 15 से 20 लाख रूपए की टैक्स चोरी सामने आ रही है। दस्तावेजों की विधिवत जांच के बाद टैक्स निर्धारित किया जाएगा। इस कार्यवाही में प्रहलाद दांगी, नीलेश यादव, गुड्डू काछी, कमलेन्द्र पाल, नरेन्द्र मिश्रा मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here