महिला को एसिड पिलाने मामले में नया ट्विस्ट, पत्नी की गुहार- छोड़ दें पति को, जाने मामला

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। महिला प्रेम वात्सल की मूरत होती है। चाहे कोई कितना भी बड़ा अपराध क्यों ना कर दे पर वह क्षमा कर ही देती है। ताजा मामला डबरा के हाई प्रोफाइल केस का है। जिसमें महिला को एसिड पिलाकर मारने का प्रयास किया गया। मामला बढा राजनीति हुई धारा भी बढ़ गई और आरोपी भी गिरफ्तार हो गए। पुलिस अधिकारी मामले का शिकार भी हो गये पर अब पीड़ित महिला का एक वीडियो आया है। जिसमें वह पुलिस प्रशासन से अपने पति को छोड़ने की गुहार करती दिख रही है। उसका कहना है कि उसे छोड़ दीजिए क्योंकि वही मेरा इलाज यहां दिल्ली में करा रहे थे।

आपको बता दें कि घटना बीती 28 तारीख की है जब डबरा के रामगढ़ मोहल्ले में रहने वाली पीड़िता को उसके पति और भाभी ने एसिड पिला दिया था। उसके बाद वह पहले ग्वालियर में इलाज कराती रही तो बाद में दिल्ली में उसका इलाज जारी है। इस मामले में पुलिस ने पहले दहेज एक्ट का मामला दर्ज किया तो बाद में दिल्ली महिला आयोग की चेयर पर्सन स्वाति मालीवाल के ट्वीट के बाद पुलिस प्रशासन हरकत में आया और हत्या के प्रयास की धाराओं का इजाफा करते हुए तत्काल आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया।

read More: Indore: निजी स्कूलों की मनमानी पर अब लगेगी रोक, इस बड़ी तैयारी में प्रशासन

साथ ही डबरा पुलिस को लापरवाही बरतने का दोषी बताते हुए थाना प्रभारी विनायक शुक्ला को लाइन अटैच और मामले की जांच कर रहे एसआई को निलंबित कर दिया। इस पूरे घटना क्रम में थाना प्रभारी शुरू से ही यह तर्क देते रहे कि पीड़िता के परिजन आरोपी को गिरफ्तार ना करने की कहते रहे हैं। फिर भी हमने आईओ को दिल्ली भेजकर महिला के बयान दर्ज कराए थे और मामला दर्ज किया था।

यही कारण रहा कि हमने अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं किया था पर मामला महिला अपराध से जुड़ा था और महिला आयोग ने सीधे मुख्यमंत्री को ट्वीट किया तो कार्यवाही होना लाजमी थी। अभी एक बार फिर इस मामले ने नया मोड़ ले लिया है। पीड़ित महिला ने एक वीडियो जारी किया है। जिसमें वह बार-बार यह कहते दिख रही है कि उसके पति को छोड़ दिया जाए वह निर्दोष है। इससे साफ स्पष्ट होता है कि महिला अपने पति की किसी भी गलती को क्षमा कर सकती है वीडियो इस बात का प्रमाण है।