VIDEO : आज MP में भी दिखा किसान आंदोलन असर, 800 टैक्टर-ट्राली लेकर मंडी पहुंचे किसान

लगभग 4000 किसान इन ट्रैक्टरों पर सवार होकर रैली के रूप में निकला तो जिसने रैली देखी वह रैली देखता ही रह गया ।

किसान आंदोलन

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) के कृषि कानून का किसानों द्वारा विरोध का सिलसिला लगातार जारी है। आज गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों (Farmers) के आव्हान पर दिल्ली में तो प्रदर्शन हो ही रहा है, साथ ही मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में किसान आंदोलन (Farmers Protest) का केंद्र बन चुके ग्वालियर (Gwalior) के डबरा (Dabra) में भी इसका बड़ा असर देखने को मिला ।आज लगभग आठ सैकड़ा से अधिक ट्रैक्टरों को लेकर किसान मंडी पहुंचे। लगभग 4000 किसान इन ट्रैक्टरों पर सवार होकर रैली के रूप में निकला तो जिसने रैली देखी वह रैली देखता ही रह गया ।

यह भी पढ़े… Gwalior- ऊर्जा मंत्री ने फहराया राष्ट्रध्वज, परेड की सलामी ली, पदयात्रा का एलान  

स्थिति यह थी कि रैली शुरू हो रही थी लेकिन खत्म होने का नाम लेते नहीं दिख रही थी। इस दौरान किसानों ने किसान एकता जिंदाबाद और वंदे मातरम (Vande Matram) के उद्घोष से पूरा शहर गुंजायमान कर दिया। कृषि मंडी से शुरू होकर मुख्य बाजारों से होते हुए रैली समुदन गुरुद्वारे पहुंचेगी, जहां शहीद हो चुके किसान आंदोलन के दौरान दिल्ली में शहीद हुए क्षेत्र के किसान सुरेंद्र सिंह की शहादत को नमन किया जाएगा और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी।

किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन (Dabra Administration) ने भी आज पुख्ता इंतजाम किए थे आसपास के थानों से पुलिस बल डबरा (Dabra Police) पहुंच गया और नगर में जगह-जगह उसे तैनात किया गया किसानों का प्रदर्शन (Protest) शांतिपूर्ण रहा पर जितनी उम्मीद की जा रही थी उससे काफी अधिक किसान इस रैली में शामिल होते दिखे।

यह भी पढ़े… MP के बेटे ने देश में किया नाम रोशन, पीएम मोदी ने इस अंदाज में दी बधाई

आपको बता दें कि जब से किसान आंदोलन शुरू हुआ है तभी से लगातार डबरा में किसान आंदोलन का बड़ा असर देखने को मिलता रहा है। पहले किसानों ने डबरा में प्रदर्शन किया तो साथ ही जब किसान दिल्ली (Delhi) पहुंचे तो डबरा क्षेत्र से कई किसान दिल्ली भी प्रदर्शन में शामिल हुए और एक किसान सुरेंद्र सिंह इस दौरान काल के गाल में समा गए जिन्हें क्षेत्रीय किसान शहीद के रूप में सम्मान दे रहे हैं।

आज मंगलवार के प्रदर्शन को देखकर इतना तो स्पष्ट है कि डबरा में किसान आंदोलन बड़े पैमाने पर देखा जा रहा है लगातार किसानों की बढ़ती संख्या इस ओर साफ इशारा करती है कि अब प्रदर्शन थमने का नाम नहीं लेगा किसान बिल (Farm Bill) वापसी की मांग पर अड़े हुए हैं।