Gwalior- ऊर्जा मंत्री ने फहराया राष्ट्रध्वज, परेड की सलामी ली, पदयात्रा का एलान  

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि वे 29 और 30 जनवरी को स्वच्छ भारत ,प्रदूषणमुक्त भारत, शुद्ध जल और बिजली बचाओ के सन्देश के साथ पद यात्रा करेंगे  उनके विधानसभा क्षेत्र से होगी।      

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। देश और प्रदेश की तरह ग्वालियर (Gwalior)में भी गणतंत्र दिवस (Republic Day) समारोह उत्साह, उमंग, हर्षोंल्लास एवं धूमधाम के साथ मनाया गया। कम्पू स्थित एसएएफ ग्राउंड पर आयोजित हुये मुख्य समारोह में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और संयुक्त परेड की सलामी ली। इस मौके पर उन्होंने स्वच्छ और प्रदूषणमुक्त वातावरण बनाने की अपील की साथ ही कहा कि वे 29 और 30 जनवरी को स्वच्छ भारत, प्रदूषणमुक्त भारत, शुद्ध जल और बिजली बचाओ के लिए पदयात्रा करेंगे।

72वें गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर आयोजित हुए मुख्य समारोह में मुख्य अतिथि ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ध्वजारोहण किया। इसके बाद उन्होंने कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह व पुलिस अधीक्षक अमित सांघी के साथ खुली जीप में सवार होकर संयुक्त परेड का निरीक्षण किया। श्री तोमर ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन भी किया। संयुक्त परेड में शामिल जवानों ने हर्ष फायर किये और राष्ट्रपति के जयकारे लगाये। मंत्री श्री तोमर ने 72वे गणतंत्र दिवस की सभी जिलेवासियों को बधाई दी। मुख्य अतिथि ने शांति और खुशहाली के प्रतीक हरे, सफेद व केसरिया रंग के गुब्बारे आसमान में छोड़े। विभिन्न विभागों द्वारा निकाली गईं शासकीय योजनाओं पर केन्द्रित झाँकियां भी आकर्षण का केन्द्र रहीं।

BSF एवं SAF  बैंड की मधुर धुन के बीच निकला आकर्षक मार्च पास्ट 

संयुक्त परेड में सीमा सुरक्षा बल (BSF), विशेष सशस्त्र बल (SAF) की द्वितीय वाहिनी, 13वीं व 14वीं वाहिनी, जिला पुलिस बल, नगर सेना की टुकड़ियों ने बीएसएफ एवं द्वितीय वाहिनी एसएएफ के बैण्ड की मधुर धुन के साथ आकर्षक मार्चपास्ट किया। संयुक्त परेड का नेतृत्व परेड कमाण्डर रक्षित निरीक्षक रणजीत सिंह ने किया। मार्चपास्ट के पश्चात सभी टुकड़ियों के परेड कमांडर्स से मुख्य अतिथि ने परिचय प्राप्त किया। इस मार्चपास्ट में सीमा सुरक्षा बल को प्रथम, एसएएफ द्वितीय वाहिनी को द्वितीय एवं 13वीं वाहिनी एसएएफ को तृतीय स्थान प्राप्त होने पर मुख्य अतिथि द्वारा शील्ड प्रदान की गई।

कोरोना गाइड लाइन के चलते पुरस्कार वितरण कार्यक्रम किया संक्षिप्त  

उत्कृष्ट काम करने वाले विभिन्न विभागों के शासकीय सेवकों के नाम का वाचन समारोह में मुख्य अतिथि प्रद्युम्न सिंह तोमर की मौजूदगी में किया गया। सम्मान के लिये चयनित सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रमाण-पत्र उनके कार्यालय में पहुँचाए जायेंगे। कोविड-19 को ध्यान में रखकर इस बार के पुरस्कार वितरण समारोह को संक्षिप्त किया गया था। वहीँ गणतंत्र दिवस (Republic Day)पर इस बार स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों एवं कारगल शहीदों की विधवा वीरांगनाओं का सम्मान वैश्विक महामारी कोरोना को ध्यान में रखकर उनके घर पर ही किया गया।

ऊर्जा मंत्री ने किया 29 और 30 जनवरी को पदयात्रा का एलान 

मीडिया से बात करते हुए मुख्य अतिथि ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि आज हमें नए जोश और नए संकल्प के साथ ये तय करना होगा कि स्वच्छ और प्रदूषणमुक्त शहर,प्रदेश और देश बनाये। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार अंतिम पक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति की सेवा के लिए हमेशा तत्पर है। ऊर्जा विभाग के लिए संकल्प के सवाल पर ऊर्जा मंत्री ने कहा कि हमने संकल्प लिया है कि  हम समय पर बिना ट्रिपिंग के बिजली उपलब्ध कराएं जिससे युवा बेटा बेटी पढ़कर समाज  श्रेष्ठ योगदान दें। उपभोक्ता को बिल मीटर रीडिंग के आधार पर मिलें।  मुझे विश्वास है कि जन सहयोग से हम ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाएंगे, एक सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि वे 29 और 30 जनवरी को स्वच्छ भारत ,प्रदूषणमुक्त भारत, शुद्ध जल और बिजली बचाओ के सन्देश के साथ पद यात्रा करेंगे  उनके विधानसभा क्षेत्र से होगी।

Gwalior- ऊर्जा मंत्री ने फहराया राष्ट्रध्वज, परेड की सलामी ली, पदयात्रा का एलान  

Gwalior- ऊर्जा मंत्री ने फहराया राष्ट्रध्वज, परेड की सलामी ली, पदयात्रा का एलान  

Gwalior- ऊर्जा मंत्री ने फहराया राष्ट्रध्वज, परेड की सलामी ली, पदयात्रा का एलान