दमोह/ गणेश अग्रवाल

दमोह जिले के जबेरा थाना अंतर्गत एक गांव में मासूम का अपहरण करने के बाद उसके साथ दुराचार किए जाने के मामले में पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। सागर संभाग के आईजी ने प्रेस वार्ता कर पूरे मामले का खुलासा किया।

जबेरा में अलसुबह एक 6 साल की मासूम जो घर से गायब थी, वह परिजनों की तलाश के बाद मिली। लेकिन मासूम के हाथ बंधे हुए थे, आंखों से खून निकल रहा था और मासूम के साथ दुराचार किया गया था। इस बच्ची को तत्काल ही जबेरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां से उसे इलाज के लिए जबलपुर रेफर किया गया। वहीं मामला पूरे दिन में हाईप्रोफाइल हो गया, सीएम से लेकर पूर्व सीएम तक ने ट्वीट करके इस मामले में चिंता जाहिर की, तो वही सागर संभाग की के आईजी ने स्वयं घटनास्थल पर पहुंचकर मामले में पुलिस अधिकारियों का निर्देशन किया। जिसके बाद गांव में ही रहने वाले एक युवक पर शक होने के बाद उससे पूछताछ की गई और उसने अपना जुर्म कबूल लिया।

आरोपी युवक का नाम सचिन सेन है जो बहला-फुसलाकर मासूम को बुधवार शाम अपने साथ ले गया था। वहीं उसके बच्ची के साथ दुराचार करने के बाद उसे छोड़ दिया था। आंखों से खून निकलने के मामले में पुलिस ने बताया कि मुंह बंद करने के दौरान आंखों में चोट लगने से ऐसा हुआ है। प्रथम दृष्टया जांच में आंख फोड़ने का मामला सामने नहीं आया है, लेकिन पुलिस इसे लेकर जांच कर रही है। इस मामले पर आरोपी को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।