दतिया : अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही, प्रसूता वार्ड के सामने इस्तेमाल पीपीई किट फेंकी

दतिया में अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है जहां प्रसूता वार्ड के सामने इस्तेमाल की हुई पीपीई किट (PPE Kit) फेंकी जा रही है ।

दतिया, सत्येन्द्र रावत। दतिया (Datia) में स्वास्थ्य कर्मचारी कोरोना संक्रमण (Corona infection) को लेकर कितने सतर्क और जागरूक हैं इसका अंदाजा आप यह तस्वीर देख कर लगा सकते हैं। दतिया में अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आई है जहां प्रसूता वार्ड के सामने इस्तेमाल की हुई पीपीई किट (PPE Kit) फेंकी जा रही है । जो जानवरों के भी संपर्क में आ रही है जिससे संक्रमण का खतरा भी बढ़ सकता है।

यह भी पढ़ें….दिल्ली में नहीं संभल रहे हालात, अब केजरीवाल ने पीएम को चिट्ठी लिख मांगी मदद

जानकारी के अनुसार दतिया में अस्पताल प्रबंधन कर्मचारी प्रसूता बार्ड के सामने यूज्ड पीपीई किट फेंक रहा है, पीपीई किट अस्पताल परिसर में फेंकने से मरीजों और जानवरों में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता तय ही है, जानकारों का मानना है कि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही महंगी पड़ सकती है इससे लोगों की जान पर भी बन सकती है, खास बात यह है कि अस्पताल प्रबंधन पीपीई किट के खतरे की जानबूझकर अनदेखी कर रहा है क्योंकि जिस बार्ड के सामने पीपीई किट फेंकी जा रही हैं वहां से दर्जनों बार सिविल सर्जन, सीएमएचओ और सीनियर डॉक्टर्स गुजरते हैं।

यह भी पढ़ें….कोरोना संकट : मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, दिए अहम सुझाव

वही जब स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ (CMHO) डॉ आर बी कुरेले से पीपीई किट को इंसीनेटर से नष्ट करने के बजाय खुले में फेंकने की गंभीर लापरवाही के बारे में सवाल किया तो उनका कहना था की हमे इसकी कोई जानकारी नहीं है। अगर ऐसा हो रहा है तो हम जांच करवा कर कार्रवाई करेंगे। अब देखना होगा की कब तक इस तरह लापरवाह कर्मचारी खुले में पीपीई किट फेकतें है या फिर अस्पताल प्रबंधन द्वारा इसके लिए कोई कदम उठाया जायेगा।