उन्नाव में स्वास्थ्य व्यवस्था हुई चौपट, लोगों को भुगतना पड़ रहा खामियाजा

दतिया। सत्येन्द्र सिंह रावत।

उनाव। दतिया के उनाव बालाजी में बना हुआ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जिले की सबसे बड़ी पंचायत का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है। स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर गृहमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। किंतु प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उनाव तक यह सुविधाएं नहीं पहुंच पा रही हैं, जिसका प्रमुख कारण बी. एम.ओ. द्वारा मुख्यालय पर नियमित रूप से उपस्थित ना होना है। प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत 2 दिन पूर्व बादाम उर्फ भययन रायकवार को बालाजी मुख्य चौराहे पर आवारा कुत्ते ने काट लिया था, जिसके इलाज के लिए वह अपनी मां के साथ बड़ी ही आशा से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गया जहां उसके हाथ निराशा लगी, क्योंकि एंटी रेबीज इंजेक्शन विगत कुछ महीनों से स्वास्थ्य केंद्र पर है ही नहीं कहकर उसे इलाज के लिए मौके पर उपस्थित स्वास्थ्य कर्मी ने मना कर दिया! इसके अलावा प्रसूति गृह में नवजात शिशु के लिए कपड़े एवं प्रसूति के लिए भोजन की व्यवस्था की सुविधा भी स्वास्थ्य केंद्र पर नहीं है। इतना ही नहीं डिलीवरी कक्ष में लगा हुआ एयर कंडीशनर भी खराब पड़ा हुआ है! एवं स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बने हुए निवास के पास गंदगी का अंबार लगा हुआ है। आदि अव्यवस्थाओं से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उनाव जूझ रहा है। कस्बे के समाजसेवी राजू चौधरी, अप्पू पंडा, सरपंच लक्ष्मण सिंह यादव, अटल पटेरिया, गौरव चतुर्वेदी ,अनूप तिवारी द्वारा कई बार सी.एम.एच.ओ. उदयपुरिया जी को भी अवगत कराया गया! किंतु अभी तक इस समस्या पर संज्ञान नहीं लिया गया। अतः गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री समस्या पर ध्यान केंद्रित कर निवारण करें। जिससे कस्बे एवं क्षेत्र की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उनाव बालाजी में उपलब्ध हो सके।