कांग्रेस नेता प्रदीप चौधरी और उनके साथियों के खिलाफ मामला दर्ज

प्रदीप चौधरी और उनके साथी श्मशान घाट में ही धरने पर बैठे गए थे। जिसके बाद आज प्रदीप चौधरी और उनके अन्य साथियो के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

देवास, अमिताभ शुक्ला । देवास (Dewas) में शुक्रवार को नगर निगम द्वारा बावड़िया क्षेत्र स्थित श्मशान घाट तोड़ा गया था। और वापस उसी जगह श्मशान घाट बनाये जाने की मांग को लेकर प्रदेश कांग्रेस महामंत्री प्रदीप चौधरी और उनके साथी श्मशान घाट में ही धरने पर बैठे गए थे। जिसके बाद आज प्रदीप चौधरी और उनके अन्य साथियो के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें…Solar Eclipse 2021: 10 जून को साल का पहला सूर्यग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा असर

जानकारी के अनुसार कोरोना काल में कोरोना संक्रमित (Corona infected) के शवों का बिना अनुमति के श्मशान घाट में दाह संस्कार किया जा रहा था। जिसकी शिकायत मिलने के बाद पिछले दिनों नगर निगम द्वारा शमशान का शेड तोड़ा गया था। साथ ही नगर निगम द्वारा तार फेंसिंग करके श्मशान घाट को कवर्ड भी किया गया था। और ये बात कांग्रेस महामंत्री प्रदीप चौधरी को नागवारा लगी। जिसके बाद प्रदीप चौधरी और साथीगण घेरने पर बैठ गए। धरने पर बैठे महामंत्री और उनके साथियों ने जमकर नारेबाजी की और विधायक के ऊपर भी सवाल उठाए। साथ ही तख्तियों पर यह भी लिखा कि ‘ विधायक जी हमारा शमशान क्यों तोड़ा’।

नगर निगम के इंजीनयर ने की शिकायत
नगर निगम के इंजीनयर सौरभ त्रिपाठी ने प्रदीप चौधरी और खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसके बाद औद्योगिक थाना क्षेत्र पुलिस ने मामला दर्ज कर जाँच शुरू की। बतादें कि प्रदीप चौधरी और उनके अन्य साथियों पर शासकीय संपत्ति तोड़ने के भी आरोप लगे है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस महामंत्री ने शमशान के बाउंड्री के तार फेंसिंग तोड़ दिया था।

यह भी पढ़ें…MP College: UG-PG छात्रों के लिए इस बड़ी तैयारी में उच्च शिक्षा विभाग, रणनीतियों पर काम शुरू