देवास कलेक्टर ने पांच आरोपियों को किया जिलाबदर, अपराधियों में दशहत

देवास, सोमेश उपाध्याय। सीएम शिवराज सिंह चौहान के अपराधियों के प्रति सख्त रवैये को देखते हुए जिला प्रशासन भी पूरे जिले में सक्रिय हो गया है। कलेक्टर डॉ चन्द्रमौली शुक्ला से लेकर पुलिस कप्तान डॉ शिवदयाल सिंह जिले भर में नजर रख रहे हैं।
कलेक्टर शुक्ला ने मंगलवार को मध्य प्रदेश राज्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत पांच आरोपियों को जिलाबदर किया है।

कलेक्टर ने बाबूलाल पिता कालुराम उम्र 50 साल निवासी पीपलरांवा को छ: माह के लिए एवं भूरा उर्फ दिनेश पिता रामौतार उम्र 35 साल निवासी अजनास थाना खातेगांव को तीन माह के लिए, राहुल उर्फ गोलु पिता दशरथ उम्र 29 साल निवासी भवानी सागर को तीन माह के लिए, अय्युब पिता छोटे खां उर्फ छुट्टन खां उम्र 28 साल निवासी नुसरत नगर देवास को तीन माह के लिए तथा धर्मेन्‍द्र उर्फ फुग्‍गा पिता दिनेश निहाले उम्र 28 साल निवासी अंबेडकर नगर देवास को तीन माह के लिए जिला बदर किया है। कलेक्‍टर ने कहा कि आदेश प्राप्ति से 24 घण्टे के भीतर उक्‍त सभी आरोपी जिला देवास एवं उसके आस पास के सीमावर्ती जिलों इन्दौर, उज्जैन, शाजापुर, सीहोर, हरदा, खण्डवा, खरगोन की राजस्व सीमाओं से बाहर चले जाए तथा जिला दंडाधिकारी न्यायालय की बिना पूर्व अनुज्ञा के प्रवेश नहीं कर सकेंगे।वहीजिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में टीआई, एसडीओपी स्वयं बल के साथ भ्रमण कर रहे है। बागली में एसडीओपी राकेश व्यास, टीआई जयराम चौहान ने मयबल बागली की गाँधी कालोनी, बस स्टैंड व अन्य क्षेत्रों में भी चेकिंग की। इसी प्रकार नेमावर, हाटपिपल्या, खातेगांव, उदयनगर में भी कार्यवाही की जा रही है। पुलिस के सख्त रवैये को देखते हुए अपराधियों में दशहत का माहौल बना हुआ है।