आफत की बारिश और ओलावृष्टि से सहमे किसान, खेतो ने ओढ़ी बर्फ की चादर

बागली देवास, सोमेश उपाध्याय। जिले में गुरूवार शाम 4 बजे से ही मौसम का मिजाज बिगड़ गया। तेज गरज और चमक के साथ कुछ क्षेत्रों में जोरदार हवा आँधी के साथ बारिश (rain) और ओलावृष्टि हुई। इस बेमौसम की बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों (farmers) के माथे पर चिंता की लकीरें बढ़ा दी हैं।

ये भी पढ़िये- मौसम विभाग ने जताई बारिश और ओलावृष्टि की संभावना, अगले 24 घंटे के लिए अलर्ट

बागली के सोबल्यापूरा के किसान खुमान सिंह काग ने बताया कि खेतो में चने के आकार के ओले गिरे। ओले गिरने से गेहूं की फसल की बालियां टूट गई हैं वहीं चने की पक चुकी फसल में से भी दाने बाहर निकल गए हैं। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में चना और गेहूं की फसल की कटाई का दौर शुरू हो गया है। बारिश के कारण खेतों में काटकर रखी फसल भीग गई। वहीं सब्जी की फसल को भी काफी नुकसान हुआ है। उन्होने बताया की उनके खेतों में करीब 90 प्रतिशत का नुकसान हुआ है। बागली क्षेत्र के पुंजापुरा, सोबल्यापूरा, पिपरी, भीकुपुरा, मानसिंहपूरा सहित दर्जन भर से अधिक गाँवो में ओलावृष्टि हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here