बहुउद्देश्यीय संघर्ष संगठन के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने सौंपा कलेक्टर के नाम ज्ञापन

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सड़क खराब होने के कारण किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य एवं सुरक्षा जैसी सुविधाओं का लाभ उन्हें नहीं मिल पाता है। अगर मांग पूरी नहीं की गई तो सरकार द्वारा दी गई साइकिलें शासन को वापस कर दी जाएंगी।

डिंडौरी, प्रकाश मिश्रा। जोगी टिकरिया से बिजोरा पहुंच मार्ग खस्ताहाल सड़क के निर्माण को लेकर दुल्लोपुर बिजोरा हिनौता के बहुउद्देश्यीय संघर्ष संगठन के सैकड़ों कार्यकर्ता महिला एवं पुरुषों ने जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर कलेक्टर के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। शासकीय चंद्र विजय महाविद्यालय से रैली के रूप में विरोध प्रदर्शन कर सड़क निर्माण की मांग करते हुए बड़ी संख्या में महिला और पुरुष जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे, जहां एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर तत्काल रोड निर्माण करने की मांग की। बहुउद्दीशीय संघर्ष संगठन के प्रतिनिधियों ने बताया कि आजादी के बाद से उक्त सड़क का कभी भी पूरी तरह निर्माण नहीं किया गया। ग्रामीणों के द्वारा विरोध प्रदर्शन किए जाने पर गिट्टी मुर्रम डालकर रोड को काम चलाऊ तैयार किया गया। कई वर्षों से उक्त तीनों ग्रामों के ग्रामीण सड़क को लेकर काफी परेशान होते रहे हैं। विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बताया कि सड़क की हालत अधिक खराब है, जिसके कारण लोगों को आवागमन में अत्यधिक परेशानी होती है। साथ ही किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य एवं सुरक्षा जैसी सुविधाओं का लाभ उन्हें नहीं मिल पाता है। साथ ही बड़ी संख्या में इन ग्रामों के बच्चे स्कूलों के लिए इसी सड़क से आते जाते हैं जो कई बार दुर्घटनाग्रस्त भी हो चुके हैं।

मांग पूरी ना होने पर करेंगे खुलकर विरोध

बहुउद्देशीय संघर्ष संगठन ने कहा कि यदि निर्धारित समय सीमा पर सड़क का निर्माण शासन नहीं करवाता है तो मजबूरन उन्हें कठोर कदम उठाने पड़ेंगे। ग्रामीणों का कहना था कि शासन ने उनके बच्चों को साइकिल बांटी है किंतु सड़क नहीं है तो साइकिल भी अनुपयोगी साबित हो रही है जिसके कारण सरकार की मंशा पर पानी फिर रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि रोड का निर्माण नहीं होता है तो वे सभी शासन के द्वारा प्रदान की गई बच्चों की साइकिलें शासन को वापस कर देंगे।