मध्यप्रदेश के 7 कांवड़ियों को डंपर ने रौंदा, हाथरस में हुआ हादसा

डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के 7 कांवड़ियों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई, हादसा उत्तरप्रदेश के हाथरस में हुआ। एक डंपर ने इन्हे रौंद दिया। हादसे में 5 कांवड़ियों  की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 1 ने अस्पताल में दम तोड़ा। हादसे में जान गवाने वाले सभी कांवड़ियें  हरिद्वार से गंगाजल लेकर ग्वालियर लौट रहे थे। मृतक कांवड़िये ग्वालियर के उटीला थाना इलाके के बांगीपुरा गांव के रहने वाले थे। हादसे में 1 घायल को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस घटना पर दुख जताया है।

यह भी पढ़ें…. रेडिया का राष्ट्रीय प्रसारण दिवस आज, जानें इससे जुड़े रोचक तथ्य

घटना शुक्रवार देर रात सवा दो बजे की बताई जा रही है। मृतकों के साथी कांवड़िये की माने तो ढाबे में खाना खाने के बाद सभी वही बैठे थे कि तभी ड्राइवर ने उन पर डंपर चढ़ा दिया। हादसा हाथरस में कोतवाली सादाबाद बढ़ार चौराहे पर हुआ। घटना के बाद ड्राइवर डंपर लेकर भाग निकला। बताया जा रहा है कि 42 लोगों का जत्था एक साथ गंगाजल लेकर जा रहा था। इस घटना में जबर सिंह (28), रनवीर सिंह (30), मनोज पाल सिंह (30), रमेश पाल (30), नरेश पाल (45) और विकास की मौत हुई है। हाथरस ​​​​​​DM रमेश रंजन ने सभी मृतक कांवड़ियों के परिजन को 1-1 लाख रुपए की मदद देने की घोषणा की है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार हादसा सादाबाद – ग्वालियर रूट पर हुआ। यह रूट कांवड़ यात्रा का पारंपरिक रूट नहीं है। इस कारण इस रूट पर कांवड़ियों के लिए ट्रैफिक बंद नहीं किया जाता। पारंपरिक रूट पर कावड़ियों को सुरक्षित रास्ता देने के लिए ट्रैफिक बंद किया जाता है। लेकिन कांवड़ियों ने ऐसा रूट चुना जिस पर बड़े वाहनों का भी आवागमन चालू था फिलहाल मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है, फिलहाल  घायलों का इलाज जारी है।