-Between-BJP's-heavy-opposition

ग्वालियर।  एक हजार बिस्तर के अस्पताल का कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया  द्वारा एक बार फिर किये जा रहे भूमिपूजन कार्यक्रम का विरोध करने के दौरान घायल हुए पार्टी कार्यकर्ताओं की तबियत देखने ग्वालियर सांसद एवं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जयारोग्य अस्पताल पहुंचे। 

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि एक हजार बिस्तर के अस्पताल का शिलान्यास, उसका बजट एवं कार्य प्रारंभ सभी भारतीय जनता पार्टी के कार्यकाल में हुआ तो दोबारा से उसका शिलान्यास करने की क्या आवश्यकता है ,  शिलान्यास करने की  यदि भूख है तो कांग्रेस की प्रदेश सरकार नए प्रोजेक्ट लाकर उनका शिलान्यास करे।  श्री तोमर ने कहा कि  यदि कांग्रेस के नेता ग्वालियर के विकास के हिमायती हैं तो रोप वे का काम क्यों शुरू नहीं करा पाए।  उन्होंने  कहा कि  कांग्रेस घड़ियाली आंसू बहाती है और बेबुनियाद  आरोप लगाती है। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से अलोकतांत्रिक पार्टी रही है, श्रीमती गांधी जब प्रधानमंत्री बनकर आई तो देश पर आपातकाल थोप दिया। सभी  संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करना, अविश्वास करना, उनको हल्का करना यह कांग्रेस का चरित्र रहा है। कांग्रेस पार्टी ने सत्ता के नशे में चूर होकर अधिकारियों एवं पुलिस का  इस्तेमाल करके बर्बरता पूर्वक हमला भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर किया मैं उसकी तीव्र शब्दों में निंदा करता हूं,आज की घटना भारतीय जनता पार्टी का अलोकतांत्रिक गतिविधि के विरुद्ध संघर्ष था और हमारे कार्यकर्ताओं ने जिस  डटकर इसका मुकाबला किया मैं इसके लिए उन्हें बधाई देता हूँ। श्री तोमर ने कहा कि  हमारा जन्म तो विपक्ष के रूप में ही हुआ था इसलिए जब इंदिरा गांधी के आपातकाल से हम लोग नहीं डरे तो क्या डरेंगे,  यह कांग्रेस को ठीक से समझ में आ जाना चाहिए।