भीड़ ने बिगाड़े हालात, ग्वालियर में उचित मूल्य की दुकानें और बैंक आगामी आदेश तक बंद

ग्वालियर/अतुल सक्सेना

शहर के लोगों को लॉक डाउन के बीच दी गई सुविधाओं का विपरीत असर हुआ है और दो दिन पहले कोरोना मुक्त हुए जिले में मंगलवार को चार मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके बाद जिला दंडाधिकारी ने जिले में शासकीय उचित मूल्य की दुकानों और बैंकों को आगामी आदेश तक बंद करने के आदेश दिये हैं।

लॉक डाउन के बीच ग्वालियर जिले में लागू टोटल लॉक डाउन में जिला प्रशासन आंशिक संशोधन कर सुविधाएं प्रदान कर रहा था। इस बीच प्रशासन ने शासकीय उचित मूल्य की दुकानों से राशन का वितरण शुरु किया और सभी बैंकों को सुबह 10 बजे से 3 बजे तक खोलने के आदेश दिये। इस आदेश का नतीजा ये हुआ कि राशन की दुकानों और बैंकों पर भीड़ बढ़ गई और किसी ने सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं दिया। इसका परिणाम ये निकला कि आज 7 अप्रैल को जो मेडिकल बुलेटिन जारी हुआ उसमें पांच मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई जिसमें चार ग्वालियर और एक मुरैना का है। अचानक चार मरीजों के पॉजिटिव मिलने से प्रशासन ने टोटल लॉक डाउन को 9 अप्रैल तक बढ़ा दिया है।

इसी के साथ कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने ग्वालियर नगर निगम सीमा क्षेत्र में संचालित समस्त शासकीय उचित मूल्य की दुकानों को 8 अप्रैल से आगामी आदेश तक बंद रखने के आदेश जारी किए हैं। साथ ही बैंकों को भी बंद करने के आदेश दिये गए हैं। बैंकों में भारी संख्या में लोग जनधन खातों में सरकार द्वारा भेजे गए पैसों को निकालने के लिए पहुँच गए। कलेक्टर श्री सिंह ने अपने आदेश में कहा है कि उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से राशन वितरण में अधिक संख्या में आम जनों के आने से संक्रमण फैलने की संभावना को देखते हुए सभी उचित मूल्य दुकानें आगामी आदेश तक बंद रखने का निर्णय लिया गया है। उचित मूल्य की दुकानों से राशन का वितरण नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलने की स्थिति को देखकर लिया जायेगा। आगामी आदेश तक नगर निगम सीमा क्षेत्र की सभी उचित मूल्य की दुकानें बंद रहेंगी। इसके अलावा प्रशासन द्वारा चिंहित 21 पेट्रोल पंप, 22 मेडिकल स्टोर्स, नर्सिंग होम, क्लिनिक खोलने के आदेश दिये गए हैं साथ ही पेपर, दूध, अंडे, ब्रेड, टोस्ट आदि का वितरण सुबह 6 बजे से 9 बजे तक किया जा सकेगा । इस अवधि में किराना, ग्रोसरी की दुकाने पूरी तरह बंद रहेंगी इसकी आपूर्ति होम डिलेवरी के माध्यम से होगी।

भीड़ ने बिगाड़े हालात, ग्वालियर में उचित मूल्य की दुकानें और बैंक आगामी आदेश तक बंद