नव विवाहिता की मौत, परिजनों का आरोप तंत्र विद्या कराता था पति, उसी ने ली जान

death-of-the-newly-married-woman

ग्वालियर। हमारा देश भले ही आज मंगल पर पहुंच गया हो । जन जागरूकता और शिक्षा के बड़े बड़े आयोजन कर सरकारें वाहवाही लूट रही हों लेकिन आज भी कई बार ऐसे मामले आमने आ जाते हैं जिससे साफ़ पता चलता है कि समाज आज भी कितना पिछड़ा है अशिक्षित है। ताजा मामला एक नव विवाहिता की मौत से जुड़ा है जिसमें महिला के मायके पक्ष का आरोप है कि उनकी बेटी को उसके पति ने तंत्र विद्या कर मारा है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार झांसी रोड थाना क्षेत्र के नाका चन्द्रबदनी की गली नंबर 3 में रहने वाली रचना की बीती रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बीमार हालत में उसका पति जुगल किशोर शर्मा रचना को  जयारोग्य अस्पताल लेकर गया था लेकर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। रचना के  परिजनों ने आरोप लगाया कि  जुगल रचना को कुछ महीने पहले भागकर ले गया था। उसकी पहली पत्नी की मौत हो चुकी थी। वो उसे अपने साथ रखता था और मारता पीटता था। जुगल ने धमकी दे रखी थी कि यदि वो उसके साथ नहीं रही तो वो उसके भाई को मार देगा। कुछ दिन तक रचना मारपीट सहती रही लेकिन 15 – 20 दिन पहले रचना अपने घर से भागकर मायके आ गई थी । चार पांच दिन पहले ही जुगल  किरण नाम की महिला के साथ आया था और रचना को ले गया और बीती रात रचना की मौत हो गई । परिजनों का आरोप है कि जुगल रचना को तांत्रिक के पास लेकर जाता था जब उसकी तबियत ख़राब हुई तो तांत्रिक की दी हुई भभूती आदि खिला दी जिससे उसकी तबियत बिगड़ गई और उसकी मौत हो गई। उधर जुगल किशोर भी रचना को किसी तांत्रिक के पास ले जाने की बात स्वीकार कर रहा है । जुगल का  कहना है कि जब रचना को उल्टी दस्त हुए थे दवा वो ठीक नहीं हुई तो वो एक बाबा के पास ले गया जहाँ बाबा ने भभूती दी । लेकिन भभूती खाते ही रचना के शरीर में उसकी पहली पत्नी रूबी की आत्मा  आ गई जिसे बाबा ने भगा दिया। उसके बाद वो रचना को लेकर अस्पताल गया जहाँ उसकी मौत हो गई। जुगल किशोर ने रचना को भागकर ले जाने और मारने पीटने के आरोप से इंकार किया है। उसका कहना है कि उसने रचना से कोर्ट मैरिज की थी। उधर झांसी रोड थाना पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि पोस्ट मार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह साफ़ हो सकेगी।