सोने चांदी के तेज भावों के बीच धनतेरस पर सराफा बाजार सजे, कारोबारियों को घाटे का अंदेशा

ग्वालियर ।  पांच दिवसीय दीपोत्सव आज धनतेरस के साथ शुरू हो गया। सभी बाजारों में दीपावली की रौनक दिखाई देने लगी है। खासतौर पर सराफा बाजार में विशेष तैयारियां की गईं हैं। लेकिन सोने और चांदी की कीमतों में पिछले दिनों हुई तेज बढ़त के चलते कारोबारियों को घाटे का अंदेशा दिखाई दे रहा है। 

धनतेरस पर बाजारों की रौनक देखते हुए भले ही व्यापारी अच्छे कारोबार की उम्मीद लगा रहे हो  लेकिन  सराफा कारोबार से जुड़े जानकार इस बार सोने चांदी का कारोबार पिछले साल के मुकाबले 40 फ़ीसदी कम रहने का अंदेशा जता रहे हैं। इसकी वजह बताते हुए जानकार कहते हैं कि सोने के दामों में पिछले दो तीन महीनों में 6000 से 8000 रुपए प्रति 10 ग्राम की बढ़ोतरी हुई है इसके अलावा चांदी के दाम भी बहुत बढे हैं। इसलिए अब लोग सोने चांदी के बजाय अचल संपत्ति में बड़ा इन्वेस्टमेंट कर रहे हैं । सराफा कारोबारियों के शोरूम और दुकाने ग्राहकों के इन्तजार में हैं। दुकानदारों का कहना है कि कीमतें बढ़ने से अब लोग सोने चांदी की औपचारिक खरीद ही करते हैं। उधर ग्वालियर के सराफा बाजार की बात करें तो यहाँ त्यौहार की भीड़ को देखते हुए पुलिस प्रशासन में महाराज बाड़ा परिसर में  वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। दुकानदारों का कहना है कि इससे भी बाजार प्रभावित होगा । क्योकि लोग जेब में पैसा लेकर चलेंगे तो उन्हें रिसक लगेगा इसलिए वो कम पैसा लेकर चलेंगे और कम खरीदारी करेंगे। दुकानदारों का कहना है कि पिछले साल की तुलना में बाजार मंदा है ।  पिछले साल 5 करोड़ का व्यवसाय दीवाली पर हुआ था लेकिन इस बार 3 करोड़ के व्यवसाय का  अनुमान है । यानि व्यापारियों को घाटे का अंदेशा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here