ग्वालियर।

जेएनयू में हुई हिंसा और तोड़फोड़ पर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर गंभीर आरोप लगाए हैं। एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने रविवार रात ग्वालियर पहुंचे दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि देश के एक प्रतिष्ठित और सर्व मान्य विश्व विद्यालय में इस तरह की घटना की मैं निंदा करता हूं। ये  सब सरकार के इशारों पर हो रहा हैं गुंडे लड़कियों के हॉस्टल में घुस उन्होंने अध्यक्ष का सिर का फोड़ दिया । वे यहीं नहीं रुके उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ये सब गृहमंत्री अमित शाह के निर्देशन में हो रहा है । राम मंदिर के गठन के लिए ट्रस्ट के सवाल पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि रामालय ट्रस्ट बनना चाहिए जिसमें सभी 18 शंकराचार्य रहें। भाजपा द्वारा घर घर जाकर CAA और NRC का मतलब  समझाने के सवाल पर दिग्विजय सिंह ने चुटकी लेते हुए कहा कि पहले भाजपा खुद समझ लेे कि उनके मतदाता को क्या क्या परेशानी आने वाली है। उन्होंने तंज कसा कि भाजपा। के नेताओं को खुद  नहीं पता CAA और NRC क्या है?