पाक से सांस्कृतिक संबंध तोड़ने के लिए पीएम कार्यालय और गृह विभाग से होगी चर्चा : केंद्रीय मंत्री

2061
Discussion-from-PM-office-and-home-department-to-break-cultural-relations-with-Pak

ग्वालियर।  केंद्रीय पर्यटन, संस्कृति एवं नागरिक उड्डयन मंत्री ( स्वतंत्र प्रभार) महेश शर्मा ग्वालियर में कहा कि पुलवामा हमले के बाद से जिस तरह से दुनिया के तमाम बड़े देश भारत के साथ खड़े हैं उससे पाकिस्तान अलग थलग पड़ गया है।उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के साथ सांस्कृतिक संबंध तोड़ने के फैसला पीएम कार्यालय और गृह विभाग  लेगा। 

ग्वालियर में एक कार्यक्रम में पहुंचे केन्द्रीय मंत्री महेश शर्मा ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पुलवामा में कायराना हरकत के बाद पाकिस्तान को अभी भारत के कूटनीतिक जवाब दिया है जल्दी ही हमले का माकूल जवाब दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि 1962 के बाद से चीन ने भारत की तरफ कंकड़ भी नहीं फैंका उसको भारत की सैन्य और कूटनीतिक शक्तियों का अहसास है। उसे पता है कि भारत एक उभरती हुई शक्ति है और अंतर राष्ट्रीय बाजार में भी उसकी धाक है। अब पाकिस्तान को भी ये समझना होगा। 

ग्वालियर को मिल सकती है 16 से 20 सीटर विमान की सौगात

ग्वालियर में हवाई सुविधा बढ़ाने के सवाल पर केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि सिविल एयरपोर्ट बनने के प्रस्ताव के अलावा यात्रियों को सस्ती एवं सुगम हवाई सेवा उपलब्ध कराने की दृष्टि से 16 से 20 सीटर विमान चलाने पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि  ग्वालियर में सिविल एयरपोर्ट के लिए एक समिति बनाकर रिपोर्ट मंगवाई गई थी,जो आर्थिक सर्वे के आधार पर ठीक नहीं पाई गई। क्योंकि शताब्दी और गतिमान जैसी ट्रेनें तीन घंटे में ग्वालियर से दिल्ली के बीच यात्रियों को ला रही हैं। इसलिए अब बड़े विमान की बजाय 16 से 20 सीटर विमान चलाने की योजना है। इसमें यात्रियों को किराए में भी विशेष रियायत रहेगी। 500 किलोमीटर तक की दूरी पर ढाई हजार और 300 किलोमीटर की दूरी पर बारह सौ रुपए किराया रखने पर विचार होगा।

ग्वालियर ऐतिहासिक और सांस्कृतिक राजधानी, इसका रख रहे विशेष ध्यान

श्री शर्मा ने बताया कि ग्वालियर क्षेत्र में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के प्रयासों से 99 करोड़ के पुरातात्विक और पर्यटन के कार्य चल रहे हैं। यह ऐतिहासिक और सांस्कृतिक राजधानी है,इसलिए इसका विशेष ख्याल रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी के नेतृत्व में एक सशक्त सरकार कार्यरत है, जिस पर किसी भी तरह का एक दाग तक नहीं लगा है।उसने पिछले 70 सालों से चली आ रही एक खाई को पाटने आरक्षित एवं अनारक्षित लोगों को लाभ देने का काम किया है। सोनचिरैया फिल्म में चंबल क्षेत्र को गलत ढंग से प्रस्तुत करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि फिल्म सेंसर बोर्ड इसे संज्ञान में लेकर कार्रवाई करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here