ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का अनोखा अंदाज

कार्यकर्ता को पहनाई चरण पादुका, लोगों पर बरसाए फूल

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। जनसेवा करने के अपने अनोखे अंदाज के लिए पहचाने जाने वाले प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर जब भी मौका मिलता है, पीछे नहीं हटते। सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान भी ऐसा ही कुछ देखने को मिला जब मंत्री तोमर जनता पर फूल बरसाते दिखे। वहीं उन्होंने अपने साथ चरण पादुका त्यागने वाले एक कार्यकर्ता को अपने हाथ से चरण पादुका(जूते) भी पहनाई।

प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सोमवार को शासकीय प्रसूति गृह बिरला नगर में 50 बिस्तर वाले मेटरनीटी विंग के निर्माण का भूमिपूजन किया। 8 करोड़ 38 लाख रुपये की लागत बनने वाली इस मेटरनिटी विंग के बन जाने के बाद उप नगर ग्वालियर और आसपास की प्रसूताओं को बहुत लाभ मिलेगा। मंत्री तोमर जब कार्यक्रम में पहुंचे तो लोगों की भीड़ देखकर अभिभूत हो गए, वे मंच से नीचे उतरे और वहाँ मौजूद क्षेत्रीय जनता पर पुष्प वर्षा करने लगे और हाथ जोड़कर अभिवादन किया। लोग मंत्री का ये रूप देखकर भौचक रह गए।

मंत्री ने अपने कार्यकर्ता को पहनाई चरण पादुका

ऊर्जा मंत्री का जनता के प्रति प्रेम और सम्मान का एक और रूप यहाँ दिखाई दिया। उन्होने यहाँ अपने एक कार्यकर्ता को अपने हाथ से जूते पहनाए। दरअसल कुछ महीने पहले क्षेत्र की पानी की समस्या को देखते हैं करीब 45 डिग्री तापमान में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने चरण पादुका त्याग दी थी और निश्चय किया था कि जब तक समस्या हल नहीं हो जाती वे चप्पल या जूते नहीं पहनेंगे। लेकिन पिछले दिनों ग्वालियर में हुए भाजपा के एक बड़े कार्यक्रम में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के साथ प्रद्युम्न सिंह तोमर को चप्पल पहना दी थी और भरोसा दिया था कि आपके क्षेत्र की समस्या दूर हो जायेगी। गौरतलब है कि जब प्रद्युम्न सिंह तोमर ने चप्पल त्यागी थी तभी उनके कार्यकर्ता विष्णु जादौन ने भी चरण पादुका त्याग दी थी। मंत्रीजी को जब पता लगा कि विष्णु अभी भी नंगे पाँव रहते हैं तो उन्होंने कार्यक्रम के दौरान विष्णु को अपने हाथ से चरण पादुका(जूते) पहनाये।

अपनी विधानसभा में लंबे समय से अटकी इस सौगात का भूमिपूजन करते हुए ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न तोमर ने कहा कि उनकी विधानसभा में कई कार्य नहीं हो रहे थे और जब कांग्रेस की सरकार में मुख्यमंत्री कमलनाथ के पास वह जाते थे तो कमलनाथ बजट नहीं है कह कर भगा देते थे। इसलिए उन्होंने मंत्री पद त्याग दिया और भाजपा में सेवा के लिए आ गए। अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर आप लोगों के बारे में सोच रहे हैं और आज यह भूमिपूजन हुआ है ये उन्हीं का आशीर्वाद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here