नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह की महिला साथी गिरफ्तार

fraud-gang-member-lady-arrested-

ग्वालियर । शहर की हजीरा थाना पुलिस ने एक ऐसी शातिर महिला को गिरफ्तार किया है जो अपने साथियों के साथ मिलकर बेरोजगारों को सरकारी नौकरी का झांसा देकर लाखों की ठगी कर चुकी है। ठगी के इस कारोबार के लिए इसने साथियों के साथ मिलकर एक ऑफिस भी खोल रखा था। इस महिला के खिलाफ बहोड़ापुर और हजीरा थाने में धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज है। शातिर महिला ठग के तीन साथी रवि बाल्मीकि, कमल और देवेंद्र को पुलिस पहले ही  पकड़ चुकी है। 

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार की गई महिला का नाम संजना दुलानी है। ये रवि बाल्मीकि और एनी लोगों के साथ मिलकर पिछले कुछ वर्षों से ठगी का कारोबार कर रहे हैं । इस गैंग ने कोटेश्वर मंदिर रोड पर अपना एक दफ्तर खोला था जिसमें बेरोजगार युवकों के इंटरव्यू लिए जाते थे और फिर उन्हें फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिए जाते थे। इसके बदले  रवि और संजना मोती रकम लेते थे। पूछ ताछ में पता चला है कि प्रति केंडीडेट 2 से 3 लाख रुपये का सौदा होता था। दरअसल इस गिरोह का पर्दाफाश तब हुआ जब इन लोगों  ने ��क महिला के दामाद को नगर निगम में नौकरी का नियुक्ति पत्र दिया। महिला जब नगर निगम मुख्यालय पहुंची तो पता चला कि ये नियुक्ति पत्र तो फर्जी है। उसके बाद महिला ने पिछले साल जनवरी में संजना दुलानी, रवि बाल्मीक सहित सात अन्य लोगों के खिलाफ हजीरा  थाने मे धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया ।इसके बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन संजना उस समय बच निकली थी । पुलिस को संजना के मुरार क्षेत्र में मौजूदगी की जानकारी मिली तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस संजना से कड़ी पूछ ताछ कर रही है जिससे पता चल सके कि ये गैंग अबतक कितने लोगों को ठग चूका है। उधर संजना ने खुद को बेकसूर बताते हुए खुद वहां नौकरी करने की बात कही है  उसका कहना है कि वो तो सिर्फ ट्रेनिंग कराती थी जिसके उसे सेलरी मिलती थी गैंग का सरगना तो रवि बाल्मीकि है। वही पूरी डील करता था और नियुक्ति पत्र आदि बनवाता था। लेकिन पुलिस को संजना की बातों पर पूरी तरह भरोसा नहीं हो रहा है पुलिस के मुताबिक करीब 15 लाख रुपए से अधिक् की धोखाधड़ी इस गैंग ने बेरोजगारों के साथ की है ।  पुलिस अब इस रैकेट से जुड़े कुछ और आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

MP Breaking News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here