गंगा-जमुनी तहजीब की झलक, यहां राम मंदिर निर्माण के लिए मुस्लिम समाज ने दी सहयोग राशि

मंडल प्रभारी रामनरेश सिंह पवैया ने कहा कि अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण में हर भारतीय का योगदान हो। कोई भी इस पुनीत कार्य में पीछे नहीं रहे, क्योंकि यह अवसर जीवन में पहली और आखिरी बार आएगा।

डबरा, सलिल श्रीवास्तव| अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir Construction) को लेकर एक तरफ नेताओं के बयान से सियासत गरमाई हुई है| इस बीच भितरवार नगर (Bhitarwar) में राम मंदिर निर्माण समर्पण निधि अभियान के तहत गंगा जमुनी तहजीब का एक बेहतरीन उदाहरण देखने को मिला| जहां ग्राम चरखा,और भितरवार के मुस्लिम समाज के प्रतिनिधियों ने अपनी ओर से सहयोग निधि राम मंदिर निर्माण में समर्पित की।

भितरवार में मंदिर निर्माण समर्पण निधि अभियान के तहत सम्पर्क कर सहयोग निधि ली जा रही है, इसी के तहत ग्राम चरखा और भितरवार अल्पसंख्यक समुदाय ने अपनी भूमिका निभाते हुए मिसाल पेश की है। ग्राम चरखा में मंडल प्रभारी रामनरेश सिंह पवैया की मौजूदगी में बशीर शाह, मुन्ना शाह, शौकत शाह, शहजाद शाह, आरिफ खान, अशोक खां,सलीम खान आदि सहयोग निधि राम मंदिर निर्माण के लिए दी।

इस मौके पर पर मंडल प्रभारी रामनरेश सिंह पवैया ने कहा कि अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण में हर भारतीय का योगदान हो। कोई भी इस पुनीत कार्य में पीछे नहीं रहे, क्योंकि यह अवसर जीवन में पहली और आखिरी बार आएगा। सनातन संस्कृति के आधार बिंदु प्रभु श्रीराम का मंदिर जन्म स्थान पर बने, इस आकांक्षा के साथ लाखों-लाख लोगों ने बलिदान दिया। उन्होंने अपनी जवानी और जीवन, दोनों समर्पित किए। ये विषय साधारण मानवीय के मन-मस्तिष्क में बना रहे और जिंदा रहे, इस दृष्टिकोण से अनेक लोगों ने परिश्रम किया। उसी का परिणाम है, जो आज यह शुभ घड़ी और शुभ दिन आया है। उन्होंने कहा कि भारत भूमि पर जन्मे किसी भी समुदाय या संप्रदाय के लोगों को स्वतः प्रेरणा से राममंदिर के लिए सहयोग करना चाहिए, ऐसा मेरा विश्वास है। इस अवसर पर सह मंडल प्रभारी गजेन्द्र सिंह सोलंकी, सहकार्यवाह धर्मेंद्र सिंह चौहान, सरपंच बृजेंद्र सिंह पवैया, आदि उपस्थित थे|