Gwalior: मंत्री जी ने तोड़ा कानून! बिजली के खंबे पर चढ़कर की सफाई, देखें Video

बिजली विभाग के अंतर्गत काम करने वाला व्यक्ति या ठेकेदार के व्यक्ति भी वर्क परमिट लेकर खंबे के ऊपर चढ़ सकते हैं। मंत्री जी ने ऐसा क्यों किया, यह समझ से परे है।

gwalior

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर (gwalior) में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (pradyumn singh tomar) अलग ही अंदाज में नजर आए। यहां ऊर्जा मंत्री नियमों को ताक पर रखते हुए खुद ही बिजली के ट्रांसफॉर्मर (transformer) पर चढ़ गए और साफ- सफाई चालू कर दी। ट्रांसफॉर्मर पर चढ़ कर प्रद्युम्न सिंह तोमर ने झाड़ियों और जमा कचरे को हटाते हुए कहा कि इनकी वजह से अक्सर बिजली सप्लाई अवरोधित होती है।

यह भी पढ़ें… VIDEO VIRAL: होटल संचालक ने दलित युवक को खाना देने से किया इंकार, कहे जातिसूचक शब्द

दरअसल, ग्वालियर में मोती झील स्थित बिजली कंपनी के मुख्यालय के सामने लगे ट्रांसफॉर्मर पर झाड़ियां और पेड़ों की पत्तियां पड़ी हुई थी। ये देखकर मंत्री जी को ऐसा जोश आया कि वे सभी नियमों और कायदे-कानूनों की धज्जियां उड़ाते हुए खुद ही ट्रांसफॉर्मर पर चढ़ गए और ट्रिपिंग के लिए जिम्मेदार डीपी से जमा झाड़ियों और कचरे को हटाने लगे। बता दें कि मध्य प्रदेश विद्युत अभियंता संघ के अध्यक्ष जीवीएस परिहार का कहना है कि विद्युत विभाग के नियमानुसार कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति बिजली के खंभे पर नहीं चढ सकता। बिजली विभाग के अंतर्गत काम करने वाला व्यक्ति या ठेकेदार के व्यक्ति भी वर्क परमिट लेकर खंबे के ऊपर चढ़ सकते हैं। मंत्री जी ने ऐसा क्यों किया, यह समझ से परे है।

यह भी पढ़ें… MP News: IAS को नोटिस, आखिर इस बातचीत में आपत्तिजनक क्या था!

इस दौरान ऊर्जा मंत्री ने मेंटेनेंस में बिजली कंपनी के अफसरों की लापरवाही पर आम लोगों से माफी मांगी और कहा कि जरूरत पड़ने पर प्रशासनिक सर्जरी भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जहां भी ट्रिपिंग होती है वे वहां जा कर खुद निरिक्षण करेंगे। इसी सिलसिले में मंत्री जी मे पीएस और डीएम को आदेश भी दिए।