सुन्दरकाण्ड में पहुंचे मंत्री ने दिया भरोसा, दुकानदारों को फिर से बसायेंगे

gwalior-minister-reached-in-religious-program-

ग्वालियर। पुनर्स्थापना के लिए लगातार संघर्ष कर रहे विक्टोरिया मार्केट के दुकानदारों ने आज सरकार को उसका वादा याद दिलाने के लिए महाराज बाड़े पर धरना दिया और सुन्दरकाण्ड का पाठ किया। इस मौके पर पहुंचे प्रदेश के कैबिने मंत्री ने दुकानदारों को भरोसा दिलाया कि जल्दी ही यहाँ दुकानदारों की पुनर्स्थापना की जाएगी। 

5 जून 2010 की रात को ग्वालियर के हृदय स्थल महाराज बाड़े पर बनी रियासतकालीन विक्टोरिया मार्केट में आग लग गई थी। इस अग्निकांड में मार्केट की दुकाने जलकर खाक हो गईं थी जिसमें किताबों स्टेशनरी के साथ साथ अन्य व्यापारियों की दुकाने थी। अग्निकांड के बाद दुकानदारों के परिवार आज भी आजीविका के संकट से गुजर रहे हैं। हालाँकि तत्कालीन शिवराज सरकार ने विक्टोरिया मार्केट के जीर्णोद्धार के बाद दुकानदारों को फिर से वहीँ बसाने का वादा किया था लेकिन बाद में सरकार ने वादा तोड़कर यहाँ एक म्यूजियम बनाने की अनुमति दे दी तभी से व्यापारी परेशान हैं। आज दुकानदारों ने अग्निकांड की 9वी बरसी पर दुकानदारों ने धरना दिया और सुन्दरकाण्ड का पाठ किया। सुन्दरकाण्ड में प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी पहुंचे।विक्टोरिया मार्केट के संरक्षक एवं चेंबर ऑफ कॉमर्स के मानसेवी सचिव डॉ प्रवीण अग्रवाल ने उन्हें दुकानदारों की तफर से एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन लेने के बाद मंत्री श्री तोमर ने कहा कि दुकानदारों की पुनर्स्थापना के लिए हरसंभव प्रयास किये जायेंगे। और सभी संभावनाओं पर विचार कर उसे अंतिम रूप देकर व्यापारियों का स्थायी विस्थापन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि  हमारी सरकार व्यापारियों के साथ सर्वहारा वर्ग के हितों का ध्यान रखने वाली संवेदनशील सरकार है

मंत्री का भरोसा मिलने के बाद व्यापारियों ने कहा कि यदि शीघ्र स्थायी विस्थापन नहीं किया गया तो व्यापारियों द्वारा सड़कों पर आकर आंदोलन किया जाएगा। धरने में विक्टोरिया मार्केट के पीड़ित दुकानदारों के साथ चेंबर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी और दुकानदार शामिल हुए।