Gwalior News : रिटायर्ड फौजी के बेटे ने मल्टी से छलांग लगाकर की आत्महत्या, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

Gwalior News : ग्वालियर के गोला का मंदिर थाना क्षेत्र में एक मल्टी की चौथी मंजिल से आज एक युवक ने छलांग लगा दी, नीचे गिरते ही उसकी मौत हो गई, सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव की जांच के बाद उसे पीएम के लिए भेज दिया, शुरूआती जांच में सामने आया है कि मृतक के पिता रिटायर्ड आर्मी मेन यानि फौजी हैं, मृतक भी नशे का आदी था, नशा मुक्ति केंद्र में भी अहले भर्ती रह चुका हैं, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गोला का मंदिर थाना क्षेत्र में स्थित समाधिया पैलेस के नीचे आज एक युवक का शव लोगों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी गई, बताया जा रहा है कि युवक ने चौथी मंजिल से छलांग लगाई है, मृतक का नाम अर्जुन तोमर है और वो महाराजपुरा थाना क्षेत्र की श्रद्धा विहार कॉलोनी का रहने वाला था, उसके पिता नरेंद्र सिंह तोमर रिटायर्ड फौजी हैं।

पुलिस को मल्टी में लगा सीसीटीवी फुटेज भी मिला है जिसमें अर्जुन ऊपर की तरफ अकेला जाता दिखाई दे रहा है जिससे ये आत्महत्या ही दिखाई दे रही है लेकिन चूँकि मृतक नशे का आदी था इसलिए पुलिस इसे हादसे के एंगल से भी देख रही है, पुलिस दोनों एंगल पर जांच कर रही है।

मृतक के पिता नरेंद सिंह तोमर ने बताया कि उन्हें तो पुलिस ने सूचना दी , उन्हें इस बार एमें कुछ नहीं पिता, उन्होंने कहा कि उनका बेटा शराब पीता था, वो नशा मुक्ति केंद्र में भी भर्ती रह चुका है, पिता की माने तो कुछ दिन पहले ही अर्जुन की तबियत ख़राब हुई थी तब उसे मुरार अस्पताल में भर्ती भी कराया था, अब वो यहाँ कैसे पहुंचा और उसकी मौत कैसे हुई उन्हें कुछ नहीं पता।

Gwalior News : रिटायर्ड फौजी के बेटे ने मल्टी से छलांग लगाकर की आत्महत्या, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

बहरहाल युवक अर्जुन  तोमर की मौत आत्महत्या है या हादसा पुलिस इसकी जांच कर रही है , पुलिस ने उसके शव को पीएम के लिए भेज दिया है।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News